School Reopening News : दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए राज्‍य सरकार ने सभी स्कूलों को पांच अक्टूबर तक बंद रखने का फैसला किया है। शिक्षा निदेशालय (डीओई) की तरफ से जारी एक आधिकारिक आदेश में कहा गया है कि सभी सरकारी और निजी स्कूल 5 अक्टूबर तक सभी छात्रों के लिए बंद रहेंगे। ऑनलाइन शिक्षण और शिक्षण गतिविधियां हमेशा की तरह जारी रहेंगी। स्कूल के प्राचार्यों को ऑनलाइन कक्षाओं या किसी अन्य कार्य के सुचारू संचालन के लिए आवश्यकता के अनुसार, कर्मचारी बुलाने के लिए अधिकृत किया गया है। दिल्ली सरकार ने यह फैसला बच्चों के हितों को ध्यान में रखते हुए लिया है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण का मामला सामने आने के बाद 16 मार्च से सभी स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए थे। जबकि 25 मार्च से केंद्र सरकार ने पूरे देश में स्कूल-कॉलेज बंद करने का फैसला किया था। इसके बाद से स्कूल अभी तक बंद हैं। बच्चों की पढ़ाई नुकसान न हो इसके लिए ऑनलाइन के जरिए शिक्षा दी जा रही है। दिल्ली सरकार ने राजधानी के सभी स्कूलों को 30 सितंबर तक बंद करने का फैसला किया था लेकिन केंद्र सरकार की तरफ से जारी गाइडलाइन्स के मुताबिक ऐसे अटकलें थीं कि कुछ शर्तों के साथ दिल्ली में स्कूल-कॉलेज 21 सितंबर से खुल सकते हैं। अब केजरीवाल सरकार ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अभी स्कूल नहीं खुलेंगे।

दिल्‍ली में तेजी से बढ़ा संक्रमण

दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। राजधानी में बृहस्पतिवार को भी कोरोना के 4432 नए मामले सामने आए। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में अब तक कुल दो लाख 34 हजार 701 मामले आ चुके हैं। जिसमें एक लाख 98 हजार 103 मरीज ठीक हो चुके हैं। इस तरह मरीजों के ठीक होने की दर 84.40 फीसद है। मृतकों की संख्या बढ़कर 4877 हो गई है।

पालकों की सहमति से विद्यार्थी आ सकेंगे

एसोसिएशन ऑफ अनऐडेड सीबीएसई स्कूल मप्र के पदाधिकारियों के मुताबिक मप्र में हमारे संगठन से जुड़े 102 व इंदौर के 62 सीबीएसई स्कूलों ने निर्णय लिया है कि 21 सितंबर से विद्यार्थियों को मार्गदर्शन के लिए स्कूल में बुलाया जाएगा। इसके लिए शासन की एसओपी का पालन किया जाएगा परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा। कई स्कूल क्लासरूम व परिरसर सैनिटाइज भी करवा चुके हैं। इसके बाद भी शासन का जो निर्णय होगा उसका हम पालन करेंगे। विद्यार्थियों के स्कूल आने के बाद उनकी किस विषय की समस्या है, उसके आधार पर टाइमटेबल बनाया जाएगा। अभी स्कूल बसें नहीं चलेंगी, ऐसे में बच्चों को उनके पालकों के साथ ही आना होगा।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020