नई दिल्ली। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन के बाद शोक की लहर दौड़ गई। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय राजधानी के विकास में उनके योगदान को याद किया। राष्ट्रपति ने कहा है, 'उनका कार्यकाल राजधानी के लिए बदलाव की घड़ी था। इसके लिए उन्हें याद किया जाएगा।' उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने उन्हें एक अच्छा प्रशासक बताते हुए कहा, 'दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री के निधन पर मैं शोक व्यक्त करता हूं।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट में कहा है, 'शीला दीक्षितजी के निधन से गहरा दुख हुआ। ऊर्जा से भरी और मृदुभाषी व्यक्तित्व की धनी शीलाजी ने दिल्ली के विकास में उल्लेखनीय योगदान दिया था।' गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, 'शीला दीक्षित के निधन से मैं दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में भगवान उनके परिवार को शक्ति दें।'

नितिन गडकरी ने ट्वीट किया है, 'दिल्ली के विकास के लिए उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा।' पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ट्वीट किया है, 'शीला के निधन से मैंने एक गहरे मित्र और सहयोगी को खो दिया है। मेरी संवेदना उनके परिवार और मित्रों के साथ है।'

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि देश ने एक समर्पित कांग्रेस नेता खो दिया है। दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रह चुकी शीला को लोग विकास में दिए गए योगदान के लिए याद रखेंगे।

कांग्रेस नेता राहुल ने ट्वीट किया है, 'शीलाजी कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं जिनसे मेरा निजी गहरा लगाव था। दुख की इस घड़ी में उनके परिवार और दिल्ली की जनता के लिए मेरी संवेदना है।'

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, 'वह कांग्रेस की कद्दावर नेता थीं। पार्टी, पूरे देश खासकर दिल्ली के लिए उनके राजनीतिक योगदान को याद रखा जाएगा।' लालकृष्ण आडवाणी ने गहरा शोक जताते हुए कहा है वह एक सक्षम प्रशासक थीं। उन्होंने दिल्ली के विकास के लिए अमूल्य योगदान दिया। उन्हें एक अच्छी महिला के रूप में याद किया जाएगा।

उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया है, 'अभी तुरंत ही शीला दीक्षित के निधन का समाचार मिला। यह एक दुख पहुंचाने वाली खबर है। जो भी उन्हें जानते हैं उन्हें बहुत याद आएंगी। उनकी आत्मा को शांति मिले।'

स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने ट्विटर पर पोस्ट में कहा है, 'शीलाजी के निधन से गहरा सदमा पहुंचा है। वह एक उल्लेखनीय महिला थीं। हमने कभी राजनीति पर बात नहीं की लेकिन संगीत और कविता पर बात की। उनके परिवार के लिए गहरी शोक संवेदना।'

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close