नई दिल्‍ली। लंबे समय तक चली कवायद के बाद दिल्ली प्रदेश कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिल गया। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की जिम्मेदारी सुभाष चोपड़ा को दी गई है। जबकि कीर्ति आजाद को भी अभियान समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। पिछले कुछ समय से भाजपा को छोड़कर कांग्रेस में आए कीर्ति आजाद को दिल्ली की कमान सौंपने की बात चल रही थी। लेकिन आखिरी मौके पर मुहर सुभाष चोपड़ा के नाम पर लगी। कीर्ति आजाद को भी दिल्ली की राजनीति में बड़ी और अहम जिम्मेदारी सौंपी गई है। गौरतलब है दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का पद शीला दीक्षित के निधन के बाद से खाली था। इस तरह से दिल्ली को नया अध्यक्ष देकर कांग्रेस ने चुनावी तैयारी का भी आगाज किया है। चोपड़ा के पास अब मुख्‍य दायित्‍व के रूप में अगले साल की शुरुआत में होने वाले महत्वपूर्ण विधानसभा चुनावों से पहले पार्टी दिल्ली इकाई में तालमेल को बढ़ावा देने का काम होगा।

जानिये कौन हैं सुभाष चोपड़ा

कालकाजी से तीन बार के विधायक रहे सुभाष चोपड़ा दिल्ली कांग्रेस के पूर्व प्रमुख भी रहे हैं। वह इससे पहले दिल्ली विधानसभा के स्पीकर भी थे, जिसमें वह पहली बार 1998 में कालकाजी से चुने गए थे। हाल ही में यहां अध्यक्ष शीला दीक्षित के निधन के बाद चोपड़ा को दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त किया गया था।

यह भी पढ़ें : Maharashtra Election Result 2019 LIVE Update : शरद पवार बोले- नहीं करेंगे शिवसेना के गठबंधन

Posted By: Yogendra Sharma