नई दिल्ली। उन्नाव दुष्कर्म मामले में आरोपित निलंबित सिपाही आमिर खान ने तीस हजारी कोर्ट द्वारा तय किए गए आरोपों को दिल्ली हाई कोर्ट में चुनौती दी है। इस पर फिलहाल सुनवाई नहीं हुई है।

तीस हजारी अदालत ने गत 13 अगस्त को उन्नाव कांड से जुड़े दो मामलों को जोड़कर आरोप तय किए थे। एक मामला पीड़िता के पिता पर हथियार कानून का झूठा केस दर्ज करने और दूसरा हिरासत में मौत से जुड़ा है।

अभी यह है हालात

आरोपित कुलदीप सेंगर तो पहले से ही न्यायिक हिरासत में जेल में बंद है, लेकिन माखी थाना के तत्कालीन प्रभारी अशोक सिह, SI कामता प्रसाद और आमिर खान जमानत पर थे। अदालत ने तीनों की जमानत रद्द कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था।

याचिका में यह कहा

आमिर खान ने अपनी याचिका में कहा है कि निचली अदालत ने गलत तरीके से दो मामलों को जोड़कर आरोप तय कर दिए, जबकि एक मामला मजिस्ट्रेट और दूसरा सेशन ट्रायल है। इस तरह से दो मामलों को नहीं जोड़ा जा सकता।