Delhi Violence: आप पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया है। पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 का केस दयालपुर पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है। उनके ऊपर हत्या, आगजनी और दंगा फैलाने का आरोप लगाया गया है। ताहिर हुसैन पर इंटेलिजेंस ब्यूरो के कॉन्स्टेबल अंकित शर्मा की हत्या के गंभीर आरोप लग रहे हैं। इस मामले में AAP नेता हुसैन ने सफाई देते हुए खुद पर लगे सभी आरोपो को नकारा है। इसके साथ ही आम आदमी पार्टी ने उसे दल की प्राथमिक सदस्‍यता से निष्‍कासित कर दिया है।

आम आदमी पार्टी के चुनाव चिन्ह पर 2017 में नेहरू विहार से ताहिर हुसैन पार्षद बने हैं। ताहिर हुसैन ने चुनाव आयोग को दी गई जानकारी के मुताबिक उनके घर का पता नेहरू विहार करावल नगर लिखा हुआ है। नामांकन दस्तावेजों में ताहिर ने खुद को कारोबारी बताया है और लगभग 18 करोड़ की संपत्ति की जानकारी दी है। आयोग को दी गई जानकारी के मुताबिक ताहिर ने अपने खिलाफ कोई भी आपराधिक मामला दर्ज न होने की बात कही है। ताहिर 8वीं पास हैं और 2017 में दी गई जानकारी के अनुसार वे उस वक्त नेशनल ओपन स्कूल से 10वीं की पढ़ाई कर रहे थे।

ताहिर ने यह कहा

AAP नेता ताहिर पर दंगा भड़काने, आगजनी और आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या का गंभीर आरोप लगा है। हालांकि उन्होंने एक वीडियो जारी कर इस मामले में अपनी सफाई दी है कि इन मामलों में उनकी कोई भूमिका नहीं है। ताहिर ने कहा कि भीड़ जबरन मेरे घर का गेट तोड़कर अंदर घुसना चाहती थी। मैं पुलिस की मदद से खुद की जान बचाकर घर से निकला। मैं एक सच्चा और अच्छा भारतीय मुसलमान हूं। मैं अपने बच्चे की सौगंध खाकर कहता हूं कि इन सबसे मेरा कोई लेना-देना नहीं है।

Posted By: Yogendra Sharma

fantasy cricket
fantasy cricket