पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन पुरानी पीढ़ी के एक ऐसे कद्दावर राजनेता का अवसान है, जिनके राजनीतिक योगदान को आसानी से विस्मृत नहीं किया जा सकता। अपने लंबे राजनीतिक जीवन में उन्होंने केंद्रीय मंत्री और विपक्षी नेता के साथ-साथ राष्ट्रपति के रूप में जिस लगन और निष्ठा से कार्य किया, वह नई पीढ़ी के नेताओं के लिए एक अनुकरणीय उदाहरण है।

यह प्रणब दा के राजनीतिक अनुभव और कौशल का ही परिणाम था कि उन्हें एक से अधिक बार प्रधानमंत्री पद के लिए उपयुक्त माना गया। यह अलग बात है कि वह कभी प्रधानमंत्री नहीं बन सके, लेकिन जब वह राष्ट्रपति पद पर आसीन हुए तो उन्होंने न केवल अपनी विशिष्ट छाप छोड़ी, बल्कि इस पद की गरिमा भी बढ़ाई। वह उन विरले नेताओं में से थे, जो राष्ट्रपति पद तक भी पहुंचे और देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न से भी सम्मानित हुए। वह राजनीतिक मूल्यों-मान्यताओं के हिसाब से काम करने वाले राजनेता के साथ एक ऐसी शख्सियत के तौर पर भी जाने जाते रहे, जो संसदीय ज्ञान से पगे थे। वह त्वरित और साहसिक फैसले लेने के लिए भी जाने जाते थे और विषम परिस्थितियों का साहस के साथ सामना करने के लिए भी।

प्रणब दा की एक और खासियत उनकी अद्भुत स्मरण शक्ति थी। वह राजनीति और शासन के परंपरागत तौर-तरीकों के पालन के प्रति जितने प्रतिबद्ध थे, सहमति की राजनीति को संबल देने के प्रति उतने ही उदार भी थे। इस उदारभाव के बावजूद उनकी छवि एक सख्त प्रशासक की थी। प्रणब दा कई ऐतिहासिक फैसलों के गवाह भी रहे और भागीदार भी। दशकों से उनका राजनीतिक जीवन दिल्ली में केंद्रित होकर रह गया था, लेकिन उनके दिल में बंगाल बसता था और इसी कारण वह दुर्गा पूजा के अवसर पर बंगाल स्थित अपने गांव अवश्य जाते थे।

यह एक राजनेता के रूप में उनके बड़े कद का ही असर था कि राष्ट्रपति पद से मुक्त होने के बाद भी वह राष्ट्रीय महत्व के मसलों पर अपनी वैचारिक उपस्थिति का लगातार आभास कराते रहते थे। प्रणब दा के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि यही होगी कि उनकी राजनीतिक विरासत का स्मरण करते हुए उन राजनीतिक तौर-तरीकों को बल देने पर विचार हो, जिससे हमारे देश की राजनीति और अधिक परिपक्व हो सके।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020