DU 8th cutoff 2019: दिल्ली यूनिवर्सिटी ने यूनिवर्सिटी कॉलेजों में विभिन्न प्रोग्राम्स में एडमिशन के लिए 8वीं कटऑफ सूची जारी की है। हालांकि अधिकांश कॉलेजों ने आर्ट्स, कॉमर्स, साइंस और बीए प्रोग्राम के एडमिशन को बंद कर दिया है, लेकिन कुछ कॉलेज ऐसे हैं जिनमें सीटें अभी भी आरक्षित और सामान्य श्रेणी में खाली पड़ी हैं।

जिन कॉलेजों की लिस्ट अलग-अलग प्रोग्राम्स के लिए अभी भी खाली है उनमें आचार्य नरेंद्र देव कॉलेज, एआरएसडी, आर्यभट्ट कॉलेज, भास्कराचार्य कॉलेज ऑफ एप्लाइड साइंसेज, कॉलेज ऑफ वोकेशनल स्टडीज, भगिनी निवेदिता कॉलेज (डब्ल्यू), देशबंधु कॉलेज, दौलत राम कॉलेज (डब्ल्यू) , दयाल सिंह कॉलेज, गार्गी कॉलेज, हिंदू कॉलेज, हंसराज कॉलेज, कालिंदी कॉलेज, केशव महाविद्यालय, कमला नेहरू कॉलेज, मिरांडा हाउस, मोतीलाल नेहरू, श्री अरबिंदो कॉलेज शामिल हैं।

जिन प्रोग्राम्स के लिए हिंदू कॉलेज में आरक्षित श्रेणी के तहत सीटें अभी भी उपलब्ध हैं उनमें बीए अर्थशास्त्र, बीए अंग्रेजी, बीए संस्कृत, बीए समाजशास्त्र (ऑनर्स) शामिल हैं। आरक्षित वर्ग के लिए कटऑफ 87.37 से 94.25 प्रतिशत तक है। सामान्य श्रेणी के लिए, हालांकि, 97.37 प्रतिशत की कटऑफ के साथ बी.कॉम (ऑनर्स) के लिए हिंदू कॉलेज में सीटें अभी भी उपलब्ध हैं।

सत्यवती कॉलेज में एडमिशन इन चार्ज वीरेंद्र कुमार का कहना है कि कॉलेज ने 8वीं कटऑफ जारी कर दी क्योंकि 7वीं कटऑफ से रद्द होने के बाद भी सीटें खाली थीं। सत्यवती कॉलेज में इकोनॉमिक्स की करीब 20 सीटें हैं और बी.कॉम अभी भी सामान्य और आरक्षित दोनों श्रेणियों के लिए खाली है।

आर्यभट्ट कॉलेज के प्रिंसिपल मनोज सिन्हा ने कहा कि आरक्षित श्रेणियों में बहुत कम आवेदन प्राप्त हुए, जिसमें कश्मीरी प्रवासियों को अधिक छात्रों के लिए जगह बनाना शामिल था। बीएससी (ऑनर्स) में कम्प्यूटर साइंस सीटें अभी भी बीकॉम और बीकॉम (ऑनर्स) प्रोग्राम के साथ 92.25 प्रतिशत की कटऑफ के साथ सामान्य श्रेणी के लिए उपलब्ध हैं, जबकि आर्यभट्ट कॉलेज में आरक्षित वर्ग के लिए प्रोग्राम में बीकॉम गणित (ऑनर्स) के लिए सीटें खाली हैं।

दिल्ली यूनिवर्सिटी ने अपने 12वीं क्वॉलिफाइंग एग्जाम में उम्मीदवारों द्वारा पाई मेरिट के आधार पर अपने अंडकग्रेजुएट प्रोग्राम्स के लिए प्रवेश आयोजित किया। कटऑफ प्रतिशत का निर्धारण संबंधित कॉलेजों द्वारा औसत अंकों के आधार पर और व्यक्तिगत कॉलेजों में प्रत्येक कार्यक्रम के लिए पिछले वर्ष की कटऑफ किया जाता है। दिल्ली विश्वविद्यालय में कॉलेजों के लिए एकेडेमिक सैशन 20 जुलाई, 2019 को शुरू हुआ।

Posted By: Sonal Sharma