नई दिल्ली। क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों में स्केल-1 अधिकारी और कार्यालय सहायक की सीधी भर्ती के लिए होने वाली परीक्षाएं अब अंग्रेजी एवं हिंदी के अलावा 13 क्षेत्रीय भाषाओं में भी आयोजित की जाएंगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इससे क्षेत्रीय भाषाओं में दक्ष लोगों को क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों में नौकरी पाने में मदद मिलेगी। अभी तक यह परीक्षा सिर्फ अंग्रेजी और हिंदी में आयोजित की जाती थी।

संसद के दोनों सदनों में वित्त मंत्री ने बताया कि स्थानीय युवकों के लिए समान अवसर मुहैया कराने और रोजगार का दायरा बढ़ाने को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है। क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों में अधिकारियों और कार्यालय सहायकों की सीधी भर्ती परीक्षाएं अंग्रेजी और हिंदी के अलावा 13 क्षेत्रीय भाषाओं में आयोजित की जाएंगी। जिन 13 भाषाओं में परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी उनमें असमी, बांग्ला, गुजराती, कन्नड़, कोंकणी, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, उड़िया, पंजाबी, तमिल, तेलुगू और उर्दू शामिल हैं।