कोरोना महामारी के कारण बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर सरकार द्वारा 10वीं और 12वीं की परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया गया था लेकिन उनके रिजल्ट को लेकर एक समस्या खड़ी हो गई थी। जिसे लेकर एक कमेटी का गठन किया गया था। इस कमेटी का उद्देश्य बिना परीक्षा दिए एक ऐसे फाॅर्मूले का निर्माण करना था जिससे बच्चों का मूल्यांकन किया जा सके। इसे लेकर सीबीएसई ने 12वीं रिजल्ट तैयार करने के लिए इवैल्यूएशन क्राइटेरिया जारी कर दिया है। इतना ही नहीं रिजल्ट घोषित करने की भी संभावित तारीख जारी कर दी गई है।

सीबीएसई के रिजल्ट की हुई घोषणा

बतादें कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने कक्षा 12वीं के रिजल्ट टेबुलेशन पाॅलिसी के लिए एक अलग से डेस्क बनाई है। जो खासतौर पर स्कूलों के लिए है ताकि कम्यूटेशन और कैलकुलेशन में कोई भी समस्या हो तो स्कूल सीबीएसई को संपर्क कर जल्द ही समस्या का समाधान किया जा सके। इसके लिए ईमेल आईडी और फोन नंबर भी दिए गए हैं। सीबीएसई की ओर से 12वीं का रिजल्ट 31 जुलाई 2021 तक घोषित कर दिया जाएगा। वहीं 28 जून 2021 तक प्रैक्टिकल परीक्षा और इंटरनल असेसमेंट का आयोजन कर नंबर बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

अंको का प्रदर्शन करने में होगी आसानी

स्कूलों के लिए अंकों की गणना में काफी मशक्कत आ सकती थी लेकिन बैकएंड सिस्टम से स्कूलों के बहुत बड़े बोझ को हल्का करते हुए सीबीएसई के निदेशक डाॅ अंतरिक्ष जौहरी ने बताया कि सभी अंको का संग्रह करने के बाद स्कूल के लिए यह पोर्टल संपूर्ण अंक सारणी प्रदर्शित करेगा। विषय-वार अंक स्कूलों द्वारा माॅडरेशन के लिए उपलब्ध होगें। इस पोर्टल में कक्षा 11की अंक डेटा प्रविष्टि, कक्षा 12 की अंक डेटा प्रविष्टि अपलोड करनी होगी। साथ ही जांच के लिए 12वीं कक्षा की पूर्ण सारणी, थ्योरी मार्क्‍स आदि उपरोक्त गतिविधियों का एक क्रम भी तैयार किया गया है।

CBSE द्वारा जारी इस पोर्टल में स्कूल छात्रों के आंतरिक ग्रेड अपलोड कर सकेंगे। इसमें प्रक्टिकल्स, प्रोजेक्ट, आंतरिक मूल्यांकन अंक अपलोड करने की सुविधा होगी। इतना ही नही स्कूलों को बारहवीं कक्षा के रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्रों को कक्षा 10 का रोल नंबर, बोर्ड और वर्ष की जानकारी भी डालनी होगी।

Posted By: Shailendra Kumar