बिहार विधानसभा चुनाव में हार के बाद महागठबंधन में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा है कि जब बिहार में चुनाव हो रहे थे, तब राहुल गांधी अपने बहन प्रियंका गांधी वाड्रा के शिमला वाले घर पर पिकनिक मना रहे थे। शिवानंद तिवारी आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं। बकौल शिवानंद, ऐसा कभी लगा ही नहीं कि कांग्रेस बिहार चुनाव को गंभीरता से ले रही है। जो भी नेता आए, उनमें से अधिकतर पटना में प्रेस में बयान देने तक ही सीमित रहे। कांग्रेस में भाजपा के विकल्प बनने की क्षमता नहीं है। इस पर भड़के कांग्रेस नेता अनिल कुमार ने आरजेडी को आत्ममंथन करने की सलाह दे डाली।

अनिल कुमार ने कहा, हार का ठीकरा कांग्रेस से सिर फोड़ने के बजाए आरजेडी को समीक्षा करना चाहिए। भविष्य में यदि पूर्ण बहुमत की सरकार बनाना है तो पार्टी को अपनी रणनीति बदलना चाहिए। अनिल कुमार ने बसपा का उदाहरण दिया और कहा कि वोट बैंक की पॉलिटिक्स करने के बजाए समाज को एक सम्पूर्ण रूप में देखना चाहिए।

जानिए राहुल गांधी के बारे में और क्या कहा था शिवानंद तिवारी ने

शिवानंद तिवारी ने कहा था, बिहार में चुनावी सरगर्मी थी। तेजस्वी यादव के नेतृत्व में भाजपा-जदयू जैसी मजबूत पार्टियों की संयुक्त ताकत के खिलाफ लड़ाई थी और राहुल गांधी शिमला में बहन प्रियंका वाड्रा के घर पिकनिक मना रहे थे। कांग्रेस बिहार में 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही थी, लेकिन 70 जनसभाएं भी नहीं कर पाईं। यहां तक कि राहुल गांधी ने भी सिर्फ चार सभाएं ही कीं।

इसके साथ ही शिवानंद तिवारी ने पूछा कि क्या पार्टी ऐसे ही चलती है। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस के इसी रुख का फायदा भाजपा को हो रहा है। ऐसा सिर्फ बिहार नहीं, बाकी राज्यों में भी हुआ है। कांग्रेस को मंथन करना चाहिए। देश की सबसे बड़ी और पुरानी पार्टी होने का दावा करने वालों को चुनाव के प्रति तो गंभीर होना पड़ेगा। पार्टी आलाकमान एक बार फिर विचार करें। बिहार की हार पर मंथन के बहाने अपनी रणनीति पर दोबारा सोचें।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Budget 2021
Budget 2021