नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में एक बार फिर अप्रत्याशित जीत दर्ज कर आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल रविवार को तीसरी बार रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। दिल्ली के लेफ्टीनेंट गवर्नर अनिल बैजल ने केजरीवाल को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। बताते चलें कि इसी मैदान में इससे पहले दिसंबर 2013 और फरवरी 2015 में भी केजरीवाल ने सीएम पद की शपथ ली थी। केजरीवाल के साथ ही छह मंत्रियों ने भी शपथ ली।

केजरीवाल के अलावा उप-मुख्यमंत्री रहे मनीष सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री रहे सत्येंद्र जैन, श्रम और रोजगार मंत्री रहे गोपाल राय, परिवहन मंत्री रहे कैलाश गहलोत, खाद्य मंत्री और आखिर में पर्यावरण मंत्री रहे इमरान हुसैन, समाज कल्याण मंत्री रहे राजेंद्र पाल गौतम ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली।

शपथ ग्रहण के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह मेरी जीत नहीं है, यह हर दिल्लीवासी, हर परिवार की जीत है। पिछले पांच सालों में हमारी कोशिश हर दिल्लीवासी के लिए खुशियां लाना और उसे राहत देना था।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि चुनाव खत्म हो गए हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने किसे वोट दिया है, अब सभी दिल्लीवासी मेरा परिवार हैं। मैं सभी के लिए काम करूंगा, चाहे वह किसी भी पार्टी, किसी भी धर्म, जाति या समाज के लोगों से हो। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह केंद्र सरकार के साथ मिलकर दिल्ली के विकास के लिए काम करेंगे।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं सबके साथ मिलकर काम करना चाहता हूुं। चुनाव में राजनीति तो होती ही है। हमारे विरोधियों ने हमको जो कुछ बोला, हमने उनको माफ कर दिया है। मैं प्रधानमंत्री मोदी से भी आशीर्वाद मांगता हूं।

तभी अमर तिरंगा शान से लहराएगा

केजरीवाल ने आगे कहा- दिल्ली के लोगों ने दिल्ली में एक नई राजनीति शुरू की है। जब भारत मां का हर बच्चा अच्छी शिक्षा पाएगा, तभी अमर तिरंगा आसमान में शान से लहराएगा। जब भारत के हर बंदे को अच्छा इलाज मिल पाएगा। तभी अमर तिरंगा आसमान में शान से लहराएगा। जब सुरक्षा और सम्मान महिलाओं में आत्मसम्मान जगाएगा, जब हर युवा के माथे से बेरोजगार का तमगा हट जाएगा, तभी तिरंगा शान से लहराएगा।

50 मेहमानों के लिए बनाया विशेष मंच

शपथ ग्रहण समारोह के लिए रामलीला मैदान में करीब 20 फीट ऊंचे और 50 फीट के स्थायी मंच को बनाया गया है, जहां से केजरीवाल मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वहीं, 50 मेहमानों के बैठने के लिए मुख्य मंच से दो फीट नीचे दोनों ओर विशेष मंच बनाए गए थे।

इस बार पिछली बार के शपथ ग्रहण समारोह से ज्यादा लोगों के आने की संभावना है, लिहाजा 5-5 हजार लोगों के लिए अलग-अलग ब्लॉक बनाए जा रहे हैं, ताकि लोगों को परेशानी न हो। समारोह के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही दिल्ली के सातों सांसदों, सभी निगम पार्षदों, भाजपा व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्षों को भी न्योता दिया गया है।

लुधियाना के वैक्स म्यूजियम में AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल का स्टैच्यू लगाया गया है।

उधर, दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि अगर अरविंद केजरीवाल जी को लगता है कि पुरानी कैबिनेट को ही दोहराया जाना चाहिए, तो कुछ भी गलत नहीं है। लोग कैबिनेट के काम से खुश हैं और हमने अपने काम के आधार पर चुनाव जीता। हम लोगों का विश्वास बनाए रखना जारी रखेंगे।

मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में आम आदमी पार्टी के प्रशंसक उदय वीर खास अंदाज में रामलीला मैदान पहुंचे।

मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने से पहले ही अरविंद केजरीवाल ने सरकार की प्राथमिकताओं एवं योजनाओं को तेजी से क्रियान्वित करने के लिए शनिवार को अपने भावी मंत्रिमंडल के साथ एक्शन प्लान पर चर्चा की। सीएम आवास में डिनर की टेबल पर मुख्यमंत्री एवं उनके कैबिनेट सहयोगियों के बीच सरकार के तीन महीने के एजेंडे पर बात हुई। सरकार की प्राथमिकताएं तय की गईं और साथ ही दिल्ली को ग्लोबल सिटी बनाने के रोडमैप पर भी चर्चा हुई।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

fantasy cricket
fantasy cricket