नई दिल्ली। दिल्ली के तुगलकाबाद में स्थित संत रविदास के मंदिर को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद तोड़ा गया था। इसके बाद से ही विरोध प्रदर्शन का दौर शुरू हो गया था। अब इस मामले में राजनीति गहराने लगी है। बहुजन समाज पार्टी की लीडर मायावती ने इस मामले में आज ट्वीट करते हुए कहा कि केंद्र और दिल्ली सरकार दोनों ही सरकारी खर्चे से इस मंदिर का जल्द से जल्द निर्माण कराने के लिए कोई रास्ता निकालें।

मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा कि यूपी में जब बीएसपी की सरकार थी तो संत रविदास जी के सम्मान में अनेक ऐतिहासिक कार्य किए गए। इस दौरान एक ट्वीट में मायावती ने संत रविदास के अनुयायियों से गुस्से में कानून हाथ में ना लेने की अपील भी की है।

बता दें कि सियासत बढ़ने पर जहां दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने केंद्र सरकार से मंदिर के लिए जमीन देने की मांग कर डाली है। केजरीवाल ने कहा कि केंद्र अगर जमीन दे दे तो दिल्ली सरकार भव्य संत रविदास मंदिर का निर्माण करेगी।

केजरीवाल ने कहा कि सरकार अगर मंदिर के लिए 4-5 एकड़ जमीन दे दे तो इसके बदले में हम 100 एकड़ वन विकसित कर सरकार को दे देंगे।

इस बीच मंदिर के पुनर्निर्माण को लेकर AAP को भाजपा का भी साथ मिलता दिख रहा है। भाजपा विधायक ओम प्रकाश शर्मा ने भी संत रविदास मंदिर को फिर से बनाए जाने की मांग की है।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket