नई दिल्ली। कांग्रेस ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में लोक लुभावन वादों के जरिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घेरने की रणनीति बनाई है। आप सरकार की तुलना में कांग्रेस ज्यादा मुफ्त बिजली देने के साथ दिल्ली के युवाओं को नौकरी मिलने तक हर महीने आकर्षक बेरोजगारी भत्ता, वरिष्ठ नागरिकों को न्यूनतम पांच हजार रुपये मासिक पेंशन और सुगम ट्रैफिक के साथ राजधानी को प्रदूषण मुक्त करने के बड़े वादे करने जा रही है। चुनाव में कांग्रेस के वादों को गंभीरता से पेश करने के लिए पार्टी 15 साल तक सूबे की कमान संभाल चुकी दिवंगत शीला दीक्षित के कामकाज और विरासत का पूरा सहारा लेगी। इसके लिए पार्टी ने अपने सबसे बड़े चुनावी वादों में शामिल एक वादा वरिष्ठ नागरिक पेंशन योजना को शीला पेंशन योजना नाम देने का भी निर्णय किया है।

इस योजना के तहत सूबे के 60 साल की उम्र के लोगों को गुजारे के लिए हर महीने पांच हजार रुपये देने का प्रस्ताव किया गया है। युवाओं को बेरोजगारी भत्ते की रकम भी आकर्षक होगी और इस पर अभी विचार-विमर्श चल रहा है। कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको ने कहा कि 12 जनवरी को पार्टी का चुनाव घोषणा पत्र पेश किया जाएगा। कांग्रेस अब दिल्ली की 60 फीसद आबादी को 600 यूनिट तक बिजली मुफ्त देने का वादा करने जा रही है। दिल्ली प्रभारी के मुताबिक, आप सरकार की मौजूदा योजना के तहत दिल्ली की केवल 20 फीसद आबादी को मुफ्त बिजली की सौगात मिलती है।

उनका कहना है कि आप और भाजपा की नकारात्मक राजनीति से राजधानी की जनता अब आजीज आ चुकी है। सीएए-एनआरसी मसले और जेएनयू व जामिया हिसा में भाजपा की सियासत पर आप का दोहरा चरित्र भी दिल्ली ने देख लिया है। उनका मानना है कि राजधानी में कांग्रेस की शीला सरकार जैसे शासन की सख्त जरूरत है और जनता भी यही चाह रही है। चुनाव में कांग्रेस को कमजोर आंकने के आप के दावों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस 23 फीसद वोटों के साथ दूसरी सबसे बड़ी पार्टी थी।

43 विधानसभा सीटों पर कांग्रेस दूसरे नंबर पर रही थी और 2020 का यह चुनाव पिछले चुनाव से बिलकुल अलग है। पार्टी की चुनावी संभावनाओं को बेहतर बताते हुए चाको ने कहा कि हर सीट पर टिकट के आठ से दस दावेदार होना कांग्रेस की मजबूत हुई जमीन का पुख्ता सुबूत है। मुख्यमंत्री चेहरा घोषित किए जाने के सवाल पर चाको ने कहा कि चेहरे के साथ जाने की जरूरत नहीं है और पार्टी के रूप में कांग्रेस जनादेश हासिल करने उतरेगी।

Posted By: Yogendra Sharma

fantasy cricket
fantasy cricket