गुरुग्राम। हरियाणा विधानसभा चुनाव में पाकिस्तान भी मुद्दा बना हुआ है। रविवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पटौदी विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में रैली की। इस मंच से रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान को चुनौती दी। उन्होंने कहा, पाकिस्तान के आतंकवाद प्रेम का मुंह तोड़ जवाब दिया जा रहा है। राफेल हमारे पास पहले आ जाता तो बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक वहां जाकर नहीं करनी पड़ती। राफेल की मदद से अब हम भारत में बैठे-बैठे पाकिस्तान को सबक सिखा सकते हैं।

राजनाथ सिंह ने इस मौके पर पाकिस्तान को एक सुझाव भी दिया। उन्होंने कहा, आज मैं अपनी पूरी राजनीतिक समझ के साथ पाकिस्तान से कहूंगा कि वे अपने सोचने का तरीका बदल दे। सोच की दिशा बदल दे। आतंकवाद का रास्ता छोड़कर भाईचार की राह पर चल पड़े। आखिर वो हमारी पड़ोसी है। हम चाहते हैं कि वो हमारे साथ चले। वरना पहले वह दो टुकड़ों में बंटा था, इस बार अनेक टुकड़ों में टूट जाएगा। पाकिस्तान कट्टरपंथियों से लड़े, वरना भारत को लड़ना आता है।

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के मुद्दे पर रक्षा मंत्री ने कहा कि यह श्यामा प्रसाद मुखर्जी का सपना था कि भारत में एक दो विधान, दो प्रधान और दो निशान नहीं चलेंगे। जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद हम डंके की चोट पर कह सकते हैं कि देश में अब एक संविधान है, एक प्रधान है और एक निशान है।

रक्षा मंत्री ने इस मौके पर कांग्रेसियों को भी आड़े हाथ लिया और कहा कि अब उनके पास कहने को कुछ नहीं बचा है। यही कारण है कि वे देश की रक्षा से जुड़े मामलों पर राजनीति करने लगे हैं। मगर जनता सब समझ रही है।

पहले आइना दिखाया और हरियाणा की जनता एक बार फिर ऐसे लोगों को नकार देगी।

बता दें, हरियाणा और महाराष्ट्र में एक साथ चुनाव होंगे। दोनों राज्यों में 21 अक्टूबर को वोटिंग होगी और 24 को नतीजे आ जाएंगे।

Posted By: Arvind Dubey