चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा चुनाव नतीजों के सामने आने के बाद सूबे में एक बार फिर भाजपा सरकार बनाने जा रही है, हालांकि इस बार भाजपा को सरकार बनाने के लिए गठबंधन का सहारा लेना पड़ रहा है। जननायक जनता पार्टी (JJP) द्वारा सरकार बनाने के लिए भाजपा को समर्थन दिए जाने के बाद सूबे की राजनीति एक बार फिर गरमा गई है। नए फॉर्मूले के तहत जहां भाजपा ने सीएम के लिए दोबारा मनोहर लाल खट्टर ने नाम की घोषणा कर दी है। वहीं डिप्टी सीएम पद जेजेपी के हिस्से में जा रहा है। हालांकि फिलहाल यह तस्वीर साफ नहीं है कि इस पद पर चौटाला परिवार का कौन सा सदस्य काबिज होगा। दरअसल, पूर्व में जहां डिप्टी सीएम पद के लिए दुष्यंत चौटाला का नाम था, वहीं अब इस दौड़ में दुष्यंत की मां नैना चौटाला का नाम भी जुड़ गया है।

देवीलाल चौटाला से डली थी इस परिवार की राजनीतिक नीव

हरियाणा की राजनीति में 'ताऊ' के तौर पर पहचान बनाने वाले देवीलाल चौटाला के राजनीति में कदम रखने के साथ ही चौटाला राजनीतिक घराने की नीव पड़ी थी। देवीलाल चौटाला हरियाणा के पहले नेता हैं जो देश के उप प्रधानमंत्री भी बने थे। देवीलाल चौटाला के चार बेटे थे उनमें से बड़े बेटे ओम प्रकाश चौटाला ने उनकी राजनीतिक विरासत को संभाला था।

ओम प्रकाश चौटाला के दो बेटे अजय चौटाला और अभय चौटाला हैं। अजय और अभय दोनों के भी दो-दो बेटे हैं। अजय चौटाला के बेटे दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला हैं। वहीं अभय चौटाला के बेटे कर्ण और अर्जुन चौटाला हैं। दोनों ही परिवार राजनीति में सक्रिय हैं। जनननायक जनता पार्टी के संस्थापक दुष्यंत चौटाला ओपी चौटाला के पोते और अजय चौटाला के बेटे हैं।

दुष्यंत, नैना चौटाला ने JPP से लड़ा था चुनाव

ओपी चौटाला के पोते दुष्यंत चौटाला ने 2018 में जननायक जनता पार्टी (JJP) का निर्माण किया था। इसके बाद पहली बार जेजेपी विधानसभा चुनाव में उतरी थी। पहली बार में ही पार्टी ने 10 सीटों पर अपना कब्जा जमा लिया। दुष्यंत चौटाला ने उचाना कलां सीट से चुनाव लड़ा था। वहीं उनकी मां नैना चौटाला ने बाढड़ा सीट से चुनाव लड़ा था उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी को हराया था।

हरियाणा के राजनीतिक हलकों में भले ही उप मुख्यमंत्री पद को लेकर दुष्यंत चौटाला और नैना चौटाला के नाम चल रहे हैं। लेकिन सूत्रों की माने तो इस दौड़ में दुष्यंत चौटाला का ही पलड़ा भारी है।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket