चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा चुनाव के दौरान करनाल सीट से सीएम मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले जननायक जनता पार्टी (JJP) के उम्मीदवार पूर्व BSF जवान तेज बहादुर ने यादव ने पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया है। तेज बहादुर ने दुष्यंत चौटाला पर धोखा देने का आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्तीफा देने की बात कही है। दरअसल, तेज बहादुर दुष्यंत चौटाला द्वारा भाजपा के साथ गठबंधन करने से नाराज बताए जा रहे हैं। तेज बहादुर ने BSF में बतौर जवान रहते हुए वहां दिए जाने वाले खराब खाने की शिकायत की थी। इसके बाद उन्हें BSF से निकाला जा चुका है। तेज बहादुर ने हरियाणा विधानसभा चुनाव के ऐन पहले जननायक जनता पार्टी (JJP) की सदस्यता ग्रहण की थी।

शुक्रवार को दुष्यंत चौटाला की ओर से भाजपा से हाथ मिलाने की खबर सामने आने के बाद तेज बहादुर द्वारा एक वीडियो जारी किया गया। इस वीडियो में उन्होंने पार्टी छोड़ने की घोषणा की है। यादव ने जारी किए गए वीडियो में कहा है कि ' दुष्यंत चौटाला ने भाजपा से गठबंधन कर हरियाणा की जनता के साथ धोखा किया है। चौटाला ने उसी भाजपा को समर्थन दिया है जिसे राज्य के लोगों ने सत्ता से बाहर कर दिया था।' इतना ही नहीं यादव ने JPP को भाजपा की 'B-team' भी बता डाला। उन्होंने कहा कि लोगों को इन दोनों ही पार्टियों का विरोध करना चाहिए।

बता दें कि तेज बहादुर को उनके द्वारा वीडियो वायरल किए जाने के बाद 2017 में BSF से बर्खास्त किया गया था। इसके बाद उन्होंने 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी का दामन थामा था। इसके बाद उन्हें बीएसपी, एसपी और आरएलडी गठबंधन का उम्मीदवार बनाया गया था।

जेपीपी ने विधानसभा चुनाव में 10 सीटों पर जीत हासिल की है। इसके बाद पार्टी 'किंग मेकर' के तौर पर उभरी थी। शुरुआत में दुष्यंत चौटाला ने भाजपा के साथ जाने से इंकार कर दिया था, लेकिन राजनीतिक समीकरण बदलने के बाद शुक्रवार को उनकी पार्टी ने भाजपा से गठबंधन करने का ऐलान कर दिया था।

Posted By: Neeraj Vyas