चंडीगढ़। हरियाणा में महागठबंधन की उम्मीद खत्म होने के बाद आम आदमी पार्टी (AAP) अपने हिस्से की तीन लोकसभा सीटों पर रविवार को उम्मीदवारं का ऐलान करेगी। आम आदमी पार्टी ने जननायक जनता पार्टी से हरियाणा में गठबंधन किया है। गठबंधन के बाद आप पार्टी के हिस्से में करनाल, फरीदाबाद व अंबाला सीटें आई हैं। आप फरीदाबाद में ब्राह्मण, करनाल में गुर्जर तथा अंबाला में दलित उम्मीदवारों पर दांव खेलेगी।

करनाल में कृष्णपाल गुर्जर को टिकट देने की तैयारी

AAP की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष नवीन जयहिंद की फरीदाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की संभावना है। उनकी इच्छा करनाल लोकसभा सीट पर ताल ठोंकने की थी, लेकिन अरविंद केजरीवाल जातिगत समीकरणों के आधार पर नवीन जयहिंद को फरीदाबाद से मैदान में उतार सकते हैं।

नवीन जयहिंद ने पिछला लोकसभा चुनाव रोहतक से लड़ा था। इस बार रोहतक लोकसभा सीट जननायक जनता पार्टी के हिस्से में गई है। यहां से कांग्रेस के दीपेंद्र हुड्डा और भाजपा के डा. अरविंद शर्मा चुनाव लड़ रहे हैं। जननायक जनता पार्टी ने छात्र नेता प्रदीप देसवाल को टिकट दिया है। अंबाला में पूर्व डीजीपी पृथ्वी सिंह को आम आदमी पार्टी का टिकट दिया जा सकता है, जबकि करनाल में अधिवक्ता कृष्णपाल गुर्जर पर दांव खेला जा सकता है।

फरीदाबाद से नवीन जयहिंद हो सकते हैं प्रत्याशी

नवीन जयहिंद को फरीदाबाद लोकसभा सीट पर शिफ्ट करने की कई अहम वजह हैं। यहां भाजपा ने केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर और कांग्रेस ने ललित नागर को मैदान में उतार रखा है। इस लोकसभा सीट पर ब्राह्मण समुदाय के लगभगब दो लाख वोट हैं। दूसरा यह क्षेत्र दिल्ली से सटा हुआ है। पूर्व हुड्डा सरकार में आनंद कौशिक और शिवचरण शर्मा यहां से विधायक रह चुके हैं।

करनाल में पूर्व वीसी और पूर्व अधिकारियों ने टिकट मांगा

करनाल लोकसभा सीट से पार्टी के पास 14 आवेदन आए हैं। छंटनी के बाद पेशे से वकील एक कार्यकर्ता को करनाल से चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी की गई है। आम आदमी पार्टी ने जब लोकसभा चुनाव लडऩे के इच्छुक कार्यकर्ताओं व नेताओं से आवेदन मांगे थे तो उनमें पूर्व IAS, IPS के अलावा पूर्व VC ने भी आवेदन किया था। आप की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष नवीन जयहिंद के अनुसार प्रत्याशियों का नाम लगभग फाइनल है।