मुंबई। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव को अब चंद रोज ही बाकी रह गए हैं। ऐसे में सियासी पारा तेजी से बढ़ रहा है। राजनीतिक दलों के स्टार प्रचारकों ने भी मोर्चा संभाल लिया है। पार्टियां वोटरों को रिझाने के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ रहे हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अमरावती में रैली करने जा रहे हैं। इस रैली के जरिये अमित शाह क्षेत्र की 8 विधानसभा सीटों पर भाजपा की लहर पैदा करने की कोशिश करेंगे। शुक्रवार को ही शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे भी अमरावती में रैली करने जा रहे हैं। हालांकि अमित शाह और शिवसेना प्रमुख की रैलियां अलग अलग निकलेंगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमित शाह मेलघाट विधानसभा क्षेत्र में जनसभा को संबोधित करेंगे। यह ट्राइबल बेल्ट है, जहां भाजपा ने रमेश मावसकर के तौर पर नए चेहरे को उतारा है। उन्हें वर्तमान विधायक प्रभुदास भिलावेकर की जगह पार्टी ने टिकट दिया है। मावसकर का सामना NCP के केवलराम काले से होने जा रहा है। ऐसे में सेबोटेज को रोकने और नए चेहरे के दम पर भाजपा के वोटरों को बनाए रखने के लिए भाजपा यहां पूरा जोर लगा रही है।

वहीं दूसरी ओर शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे भी शुक्रवार को ही अमरावती में रैली करने जा रहे हैं। वे अमरावती शहर के दशहरा मैदान में जनसभा को संबोधित करेंगे। वे यहां शिवसेना की बडनेरा सीट से उम्मीदवार प्रीति बांड, तिओसा से राजेश वानखेड़े और अचलपुर से सुनीता फिस्के के लिए प्रचार करेंगे।

बता दें कि प्रीति बांड दिवंगत शिवसेना के पूर्व MLA संजय बांड की विधवा हैं जिनका मुकाबला निर्दलीय विधायक रवि राणा से होगा जिन्हें कांग्रेस और NCP का समर्थन मिला हुआ है। वहीं तिओसा में वानखेड़े का मुकाबला कांग्रेस के वर्तमान विधायक यशोमती ठाकुर से हैं। वे यहां से लगातार दो बार से विधायक हैं। अचलपुर सीट से शिवसेना की उम्मीदवार सुनीता फिस्के का सामना तीन बार से निर्दलीय विधायक बच्चू काडू से होने जा रहा है।