मुंबई। महाराष्ट्र में 'एनकाउंटर स्पेशलिस्ट' के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले पुलिस निरीक्षक प्रदीप शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था जिसे सोमवार को महाराष्ट्र सरकार ने स्वीकार कर लिया है। शर्मा ने 35 साल की सर्विस के बाद जुलाई 2019 में VRS के लिए आवेदन दिया था। जिस वक्त उन्होंने ये आवेदन दिया उस वक्त वे ठाणे में रंगदारी वसूली प्रकोष्ठ के प्रमुख थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शर्मा ने राजनीति में उतरने के साथ ही शिवसेना में शामिल होने के संकेत दिए हैं। माना जा रहा है कि शिवसेना उन्हें पालघर जिले के नालासोपारा सीट से मैदान में उतार सकती है।

बताया जाता है कि शर्मा ने कथित रुप से 100 से ज्यादा अपराधियों का मुठभेड़ के दौरान एनकाउंटर किया है। शर्मा का सर्विस रिकॉर्ड विवादों से भरा रहा है।

महाराष्ट्र सरकार ने शर्मा को 2008 में अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से कथित संबंधों और मुठभेड़ में उसकी कथित भूमिका को लेकर नौकरी से निकाल दिया था।

हालांकि साल 2013 में कोर्ट ने शर्मा को बरी कर दिया था, इसके बाद सरकार ने 2017 में उन्हें दोबाार पुलिस बल में बहाल कर लिया था।

महाराष्ट्र में साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होना है। ऐसे में इस बार मैदान में कई नए चेहरे नजर आ सकते हैं।