Maharashtra Election Exit Poll 2019 :

महाराष्‍ट्र में बीजेपी को 204, कांग्रेस-NCP को 69 और अन्‍य को 15 सीटें मिलती नजर आ रही हैं। एबीपी सी वोटर के एग्जिट पोल के अनुसार महाराष्‍ट्र में फिर से बीजेपी की सरकार बन रही है।बीजेपी प्‍लस को 46 प्रतिशत, कांग्रेस प्‍लस को 37 और अन्‍य को 17 प्रतिशत वोट मिलने की बात कही गई है।

- इंडिया टीवी के सर्वे के अनुसार महाराष्‍ट्र में बीजेपी को 243 , कांग्रेस को 41 और अन्‍य को 4 सीटें मिलती नजर आ रही हैं।

- न्‍यूज 18 के IPSOS के सर्वे के अनुसार महाराष्‍ट्र में बीजेपी को 141, शिवसेना को 102, कांग्रेस को 17, एनसीपी को 22 और अन्‍य को 6 सीटें मिल रही हैं।

- एक्सिस माय इंडिया के अनुसार महाराष्‍ट्र में बीजेपी को 45 प्रतिशत और अन्‍य को 20 प्रतिशत वोट मिलने का अनुमान है। इसके एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी व शिवसेना के गठबंधन को 166 से 194 सीटें मिलने का अनुमान है। इसमें बीजेपी को 109 से 124 और शिवसेना को 57 से 70 सीटें मिलने का अनुमान है। कांग्रेस को 32 से 40 सीटें मिल रही हैं और एनसीपी को 40 से 50 सीटें मिल रही हैं। इसी के सर्वे के अनुसार कोंकण की कुल 39 सीटों में से बीजेपी को 29, कांग्रेस को 6 व अन्‍य को 4 सीटें मिल रही हैं।

- एक्सिस माय इंडिया के अनुसार

महाराष्‍ट्र की कुल 288 सीटों में से बीजेपी को 166 से 194, कांग्रेस को 72 से 90 व अन्‍य को 22 से 34 सीटें मिलने का अनुमान है।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए मतदान सुबह 7 बजे शुरू हुआ मतदान शाम 6 बजे खत्म हो गया। इसके बाद विभिन्न एजेंसियां और न्यूज चैनल अपने एक्जिट पोल जारी करेंगे। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शाम 6.30 बजे से ये परिणाम जारी किए जाएंगे। महाराष्ट्र के साथ ही हरियाणा और 17 राज्यों की 51 सीटों पर हो रहे उपचुनाव के लिए भी एक्जिट पोल जारी होंगे। 24 अक्टूबर, गुरुवार को इन सभी सीटों के लिए मतगणना होगी।

यह भी पढ़ें: Haryana Exit Poll Result 2019 : खत्म होगा इंतजार, हरियाणा में आज शाम जारी होंगे एक्जिट पोल

बता दें, महाराष्ट्र की सभी 288 सीटों के लिए एक ही चरण में मतदान हो रहा है। 19 अक्टूबर चुनाव प्रचार का आखिरी दिन था। प्रदेश में इस बार भी मुख्य मुकाबला भाजपा-शिवसेना गंठबधन और कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन के बीच है। भाजपा जीत के प्रति आश्वस्त है। उसे लगता है कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद देश में पार्टी के पक्ष में माहौल बना है।

चुनाव प्रचार में भाजपा ने अपने विकास को मुद्दा बनाया है। उसी समय विपक्षी नेताओं के करप्शन के केस उजागर हुए। खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी रैलियों में भ्रष्टाचार और विरोधी नेताओं के डी कंपनी से संबंधों को मुद्दा बनाया था। पार्टी ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को चेहरा बनाया है।

शिवसेना ने भी इस बार बिना किसी मतभेद के भाजपा के साथ चुनाव प्रचार किया है। वहीं विपक्षी नेताओं का आरोप है कि भाजपा के राज में विकास नहीं हुआ है। साथ ही असहिष्णुता बढ़ी है।

महाराष्ट्र के साथ ही हरियाणा विधानसभा के चुनाव भी हो रहे हैं। यहां कुल 90 सीटे हैं, जहां एक ही चरण में मतदान हो रहा है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020