Maharashtra Government Formation Live: महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन पर कायम सस्पेंस से गुरुवार को पर्दा उठ सकता है। कांग्रेस (Congress) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के बीच दिल्ली में बैठकों का दौर जारी है। कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के निवास पर हुई, जिसमें वरिष्ठ नेताओं ने हिस्सा लिया। अब दिल्ली में ही शरद पवार के निवास पर दोनों दलों के नेताओं की बैठक हो रही है। माना जा रहा है कि आज शिवसेना (Shiv Sena) के साथ मिलकर सरकार बनाने के फॉर्मूले पर अंतिम मुहर लग सकती है। कांग्रे की ओर से मल्लिकार्जुन खड़गे और जयराम रमेश ने मौजूद हैं। इससे पहले बुधवार को हुई दोनों दलों के नेताओं की तीन घंटे चली बैठक में सरकार गठन पर सैद्धांतिक सहमति बन गई थी। कहा जा रहा है कि आज होने वाली बैठक में न्यूनतम साझा कार्यक्रम को अंतिम रूप दे दिया जाएगा, जिसके कारण अब तक सरकार बनाने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया जा सका है।

इस बीच, मुंबई में कांग्रेस के नेता संजय निरूपम बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि महाराष्ट्र में कांग्रेस का शिवसेना के साथ सरकार बनाना पार्टी को खत्म कर देगा। निरूपम ने ट्वीट किया- वर्षों पहले उत्तर प्रदेश में BSP के साथ गठबंधन करके कांग्रेस ने गलती की थी। तब से ऐसी पिटी कि आज तक नहीं उठ पाई। महाराष्ट्र में हम वही गलती कर रहे हैं। शिवसेना की सरकार में तीसरे नंबर की पार्टी बनना कांग्रेस को यहां दफन करने जैसा है।

बेहतर होगा,कांग्रेस अध्यक्ष दबाव में न आएं।

बुधवार की बैठक के बाद कांग्रेसा नेता पृथ्वीराज चव्हाण और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा था कि तीनों दल साथ आएंगे तभी सरकार बना पाएगी। हालांकि उन्होंने शिवसेना का नाम नहीं लिया था। चव्हाण ने उम्मीद जताई थी कि तीनों दल मिलकर जल्द ही प्रदेश में स्थिर सरकार देंगे।

शिवसेना के नेताओं ने भी यही संकेत दिए हैं। पार्टी के सीनियर नेता संजय राउत को शुरू से सरकार बनाने को लेकर आश्वस्त नजर आ रहे हैं। वहीं एक अन्य नेता ने कहा था कि एक-दो दिन में सबकुछ तय हो जाएगा और सरकार गठन का औपचारिक ऐलान किया जाएगा। खबर यह भी है कि आज कांग्रेस-एनसीपी के निर्णय के बाद शुक्रवार को शिवसेना नेताओं के साथ बैठक हो सकती है। हालांकि अभी यह तय नहीं है कि मुख्यमंत्री कौन होगा और सरकार में किस दल का कितना हिस्सा होगा।

Posted By: Arvind Dubey