बंगाल चुनाव: चार राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग हो चुकी है और पश्चिम बंगाल में 8 में से 4 चरण का मतदान पूरा हो चुका है। इसके बाद चुनाव आयोग ने कोरोना महामारी के खतरे का संज्ञान लिया है। चुनाव आयोग ने चुनावी रैलियों में कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करने को लेकर सभी दलों की बैठक बुलाई है। यह बैठक कोलकाता में होगी, जहां सभी दलों से नियमों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा जाएगा। इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शेष चार चरणों की वोटिंग एक ही बार में पूरा करवाने की मांग की, जिसे चुनाव आयोग ने ठुकरा दिया। भाजपा ने ममता की इस मांग पर पलटवार करते हुए कहा कि ममता बनर्जी चुनाव हार गई हैं, इसलिए ऐसी मांग कर रही हैं। बता दें, गुरुवार को पश्चिम बंगाल में कोरोना के 6769 केस सामने आए हैं और 22 मरीजों की जान गई है। आशंका जताई जा रही है कि पश्चिम बंगाल में चुनावी रैलियों में उमड़ रही भीड़ के कारण प्रदेश में कोरोना महामारी की स्थिति विस्फोटक हो सकती है। पश्चिम बंगाल को लेकर डॉक्टर भी कह रहे हैं कि यहां स्वास्थ्य सेवाएं ऐसी नहीं है कि बड़ी आबादी का इलाज कर पाए। ऐसे में सावधानी बरतना, मास्क लगाना और शारीरिक दूरी का पालन करना सबसे जरूरी है।

कोरोना से हो चुकी कांग्रेस प्रत्याशी की मौत

बंगाल में कोरोना कितना घातक हो सकता है यह कांग्रेस को पता चला गया है। कोरोना वायरस की चपेट में आए पश्चिम बंगाल चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रेजाउल हक की मौत हो गई। वे मुर्शिदाबाद जिले की शमशेरगंज विधानसभा सीट से पार्टी के उम्मीदवार थे।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags