सुशील चंद्रा (Sushil Chandra) को देश के अगले मुख्य चुनाव आयुक्त (Chief Election Commissioner) के तौर पर नियुक्त किया गया है। ये 13 अप्रैल से अपना कार्यभार संभालेंगे। मौजूदा मुख्य चुनाव आयुक्त 12 अप्रैल को पद से रिटार हो रहे हैं। सरकार ने रविवार को ही निर्वाचन आयोग के सबसे बड़े पद के लिए उनके नाम को मंजूरी दे दी थी। सुशील चंद्रा को लोकसभा चुनावों से पहले 14 फरवरी 2019 को चुनाव आयुक्त नियुक्त किया गया था। चुनाव आयोग में शामिल होने से पहले सुशील चंद्रा टैक्सेशन नियामक सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस (CBDT) यानी केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के अध्यक्ष रहे हैं। टीएस कृष्णमूर्ति के बाद वह दूसरे ऐसे IRS अफसर हैं, जिन्हें चुनाव आयुक्त बनाया गया है। बता दें कि कृष्णमूर्ति को 2004 में मुख्य चुनाव आयुक्त नियुक्त किया गया था।

कौन हैं सुशील चंद्रा?

सुशील चंद्रा का जन्म 15 मई 1957 को हुआ। उन्होंने IIT रूड़की से बीटेक की पढ़ाई की है और देहरादून के डीएवी कॉलेज से LLB की है। ये 1980 बैच के आईआरएस (IRS) यानी इंडियन रेवेन्यू सर्विस के अधिकारी हैं।

आईआरएस अधिकारी के तौर पर उन्होंने उत्तर प्रदेश, ​गुजरात, महाराष्ट्र आदि राज्यों में अपनी सेवा दी है। अंतरराष्ट्रीय टैक्सेशन और इन्वेस्टिगशन के क्षेत्र में उन्होंने काफी काम किया है। इसके अलावा उन्होंगे आईआईएम बेंगलुरु, सिंगापुर, व्हार्टन आदि जगहों में विभिन्न तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रमों में ट्रेनिंग ली है।

अगर आने वाली जिम्मेदारियों की बात करें, तो सुशील चंद्रा के कार्यकाल में चुनाव आयोग उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर आदि राज्यों में विधानसभा चुनाव कराएगा। उत्तर प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल 14 मई, 2022 को खत्म हो रहा है, जबकि बाकी राज्यों में भी अगले साल मार्च से मई तक विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो जाएगा।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags