बॉलीवुड के मशहूर गीतकार Javed Akhtar ने फिर ऐसी बात कह दी है जिससे हंगामा होना तय है। उन्होंने लाउडस्पीकर पर अज़ान देने पर एक ट्वीट किया है, जिसमें उनका कहना है कि लाउडस्पीकर पर अज़ान देने का चलन बंद होना चाहिए, क्योंकि इससे दूसरों को भी असुविधा होती है। जावेद अख्तर ने यह भी दावा किया है कि 50 साल तक लाउडस्पीकर पर अजान को हराम माना जाता था।

बीते शनिवार को किए ट्वीट में जावेद अख्तर ने लिखा है 'भारत में लगभग 50 साल तक लाउडस्पीकर पर अज़ान देना हराम माना जाता था, फिर अचानक यह हलाल इजाजत कैसे हो गया और इतना हलाल हुआ कि इसका कोई अंत नहीं नजर आ रहा, लेकिन यह अब खत्म होना चाहिए। अज़ान देना सही है, लेकिन लाउडस्पीकर पर अज़ान देने से दूसरों को असुविधा होती है। मुझे आशा करता हूं कम से कम इस बार वे यह काम खुद करेंगे।'

जावेद अख्तर अपने इस ट्वीट के कारण अब ट्रोल हो रहे हैं। लोग उनके इस ट्वीट पर आपत्ति दर्ज करवा रहे हैं। एक ने तो जावेद अख्तर के ट्वीट पर लिखा है 'मैं आपका समर्थन नहीं करता। कृपया ऐसे कमेंट ना करें, जो इस्लामिक विचारधारा को ठेस पहुंचाते हैं। जिंदगी में सही राह पर चलने के लिए अज़ान ही प्रार्थना का सही तरीका है'।

तमाम लोगों ने जावेद की बात को 2017 में हुए Sonu Nigam के अज़ान विवाद से जोड़ दिया है। एक यूजर ने जावेद अख्तर इस मुद्दे पर लिखा है 'जावेद अख्तर जी कहीं आप सोनू निगम का फोन तो इस्तेमाल नहीं कर रहे'। लगभग तीन साल पहले सोनू निगम ने भी लाउडस्पीकर पर अज़ान देने के खिलाफ आवाज उठाई थी। सोनू इसके नियम पर सवाल उठाते हुए अजान बंद किए जाने की मांग भी की थी। इस बयान के बाद उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा गया था।

Posted By: Sudeep Mishra

  • Font Size
  • Close