Baahubali The Beginning को रिलीज हुए पांच साल पूरे हो गए हैं। ऐतिहासिक सफलता पाने वाली इस फिल्म ने हिन्दी दर्शकों से Prabhas की मुलाकात करवाई। 500 करोड़ की कमाई तो इसकी जेब में गई ही, प्रभास अपनी पहली ही फिल्म में से हिन्दी भाषी इलाकों में छा गए। उन्हें वो दर्जा प्राप्त हुआ जो किसी सुपरस्टार को कई साल की मेहनत के बाद हासिल होता है। इस इज्जत का अंदाजा इसी से लगा लीजिए कि प्रभास की 'साहो' इतनी बुरी फिल्म होने के बावजदू हिन्दी इलाकों से 135 करोड़ से ज्यादा कमा ले गए, जबकि साउथ में यह फ्लॉप रही।

प्रभास को सुपरस्टार बनाने वाली फिल्म 'बाहुबली' यूं ही नहीं भारत की सबसे ज्यादा कमाऊ फिल्म कहलाती है। इसके पीछे कई वजहें हैं, कुछ हम आपको बता रहे हैं...

1. यह पहली फिल्म थी जिसके लिए एक खास भाषा तैयार की गई थी। इस भाषा को किलिकी नाम दिया गया था। इसे फिल्म में कालकेय बोलते थे। इसमें करीब 750 शब्द थे और इसकी ग्रामर के 40 नियम भी थे।

2. अपने रिलीज होने के समय तक यह भारत में बनी सबसे महंगी फिल्म थी। उस वक्त इसकी लागत करीब 200 करोड़ रुपए बताई जा रही थी। इसे 150 करोड़ रुपए में बना लिया जाना था लेकिन बजट बढ़ता ही चला गया। 30 करोड़ रुपए तो इसके क्लाइमेक्स पर ही खर्च हो गए थे।

3. दुनियाभर की करीब 15 कम्प्यूटर कंपनियों ने इसके लिए वीएफएक्स का काम किया था। 90 फीसद बाहुबली कम्प्यूटर पर ही बनी है। इसमें करीब 5000 विजुअल इफेक्ट्स शॉट्स डाले गए।

4. इसके पोस्टर ने भी विश्व रिकॉर्ड बनाया था। इसकी रिलीज के वक्त 50000 स्क्वेअर फीट में इसका पोस्टर बनाया गया था। इसे गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने सबसे बड़े फिल्मी पोस्टर का कीर्तिमान माना था।

5. रिलीज के बाद इसे लंदन के रॉयल अल्बर्ट हॉल में दिखाया गया। वहां दिखाई जाने वाली यह पहली गैरअंग्रेजी फिल्म थी। इस मौके पर फिल्म की लीडिंग टीम भी मौजूद रही।

Posted By: Sudeep Mishra

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan