बॉलीवुड एक्ट्रेस Kangana Ranaut की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। कर्नाटक में FIR दर्ज होने के बाद अब मुंबई की बांद्रा कोर्ट ने Kangana Ranaut के खिलाफ ट्वीट और इंटरव्यू के जरिए सांप्रदायिक नफरत फैलाने के आरोप में एफआईआर (FIR) दर्ज करने का आदेश दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुन्ना वराली और साहिल अशरफ सैयद ने अदालत में याचिका दायर कर भड़काऊ ट्वीट के लिए कंगना रनोट के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। याचिका में यह आरोप लगाया गया था कि कंगना अपने ट्वीट और टीवी चैनलों पर दिए इंटरव्यू के जरिए हिंदू और मुस्लिम कलाकारों के बीच खाई पैदा कर रही हैं। इस याचिका में कहा गया था कि कंगना अपने ट्वीट के जरिए दो समुदायों के बीच नफरत को बढ़ावा दे रही हैं। कंगना पर सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने का आरोप भी लगाया गया था।

याचिकाकर्ताओं के अनुसार, बांद्रा पुलिस स्टेशन ने इस मामले में कोई एक्शन लेने से मना कर दिया था, इसकी वजह से उन्होंने अदालत की शरण ली। कोर्ट ने कंगना रनोट के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने को कहा है।

FIR दर्ज होने के बाद कंगना रनोट से पूछताछ होगी और यदि पुख्ता सबूत मिले तो उनकी गिरफ्तारी भी हो सकती हैं। कंगना रनोट बॉलीवुड में नेपोटिज्म के खिलाफ लगातार आवाज उठाती रही हैं। उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलाने के लिए भी मुहिम छेड़ी हुई हैं।

केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि कानूनों का विरोध करने वाले लोगों पर की गई टिप्पणी को लेकर कंगना रनोट के खिलाफ कर्नाटक पुलिस ने 13 अक्टूबर को एफआईआर दर्ज की थी। तुमाकुरु पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर यह मामला दर्ज किया था। वकील रमेश नाइक की याचिका के आधार पर तुमकुरु के प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत ने कंगना के खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश दिया था।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020