मनु कुमार पटेलजिनका जन्म और पालन-पोषण गुजरात के हिम्मत नगर में हुआ था, आजकल वो एक प्रवासी भारतीय के रूप में कनाडा के नागरिक हैं और मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र के लोगों से और पन्ना के धामी भाइयों से उनका एक खासस्नेहपूर्ण लगाव है। आइए जानते हैं कि उन लोगों से वह कैसे जुड़े और उनके लिए छत्रसाल का महत्व एक वेब शो से अधिक क्यों है? वह बताते हैं कि ''बुंदेलखंड से मेरा जुड़ाव बचपन से है। मैं लगभग हर साल बुंदेलखंड जाया करता था। पन्ना में श्री प्राण नाथ जी के मंदिर में स्थित प्रेरणातीर्थ श्री गुम्मट जी और श्री बांग्ला जी दरबार मैं नियमित रूप से दर्शन हेतु आज भी जाता हूँ। मेरा पूरा जीवन श्री प्राण नाथ जी से प्रेरित है जो बुंदेलखंड के महाराजा छत्रसाल के आध्यात्मिक गुरु थे। हमनेहाल ही में वेबसाइट www.chhatrasal.comलॉन्च की है। यह वेबसाइट उन सभी को समर्पित होगी जो 'महाराजा छत्रसाल' के जीवन और समय के बारे में और अधिक जानना चाहते हैं।''

अपने शो छत्रसाल के बारे में बात करते हुए, मनु कुमार पटेलकहते हैं कि“हमारा उद्देश्य गौरवशाली हिंदुस्तान की कहानियों को सामने लाना है और छत्रसाल उनमें से एक है। बहुत से भारतीय यह नहीं जानते कि महाराजा छत्रसाल बुंदेला ही वह प्रमुख कारण थे , जिसकी वजह से औरंगजेब की बुंदेलखंड क्षेत्र पर कब्जा करने की इच्छा पूरी नहीं हो पायी। वह एक सुप्रसिद्ध तथा लोकप्रिय राजा थे और लोग उनकेउपदेशों का आज भी पूरी निष्ठा के साथ पालन करते हैं। इस शो के साथ, हम कई ऐसे पलों और पात्रों को उजागर करते हैं, जो भारत के लिए किए गए बलिदान के कारण हमारे विशिष्टसम्मान के अधिकारी हैं। यह शो एक तरह से अपने देश के नायकों के बारे में सीखने-समझने के लिए समाज के प्रति हमारा योगदान है। इस शो के माध्यम से अगर हम समाज में थोड़ी भी चेतना और उल्लास जगा पाए तो हमारी प्रसन्नता को शब्दों में वर्णित करना सम्भव नहीं होगा।"

मनु कुमार पटेलऔर उनके साथी रमन पटेल(यूएसए),नरेंद्र पटेल(यूएसए) एक आध्यात्मिक और खुशहाल समाज बनाने के लिए हर संभव प्रयास करते हैं। उनके क्रांतिकारी विचारों ने 'श्री प्राणनाथ वैश्विक चेतना अभियान'के गठन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। श्री रमन पटेल और श्री नरेंद्र पटेल के साथ मनु कुमार पटेल'श्री प्राणनाथ वैश्विक चेतना अभियान'के संस्थापक हैं। यह अभियान कई धर्मार्थ संस्थानों से जुड़ा हुआ है जो सभी धर्मों, जाति और पंथ के लोगों की मदद करता रहता है और उन्हें अपने जीवन में बेहतर करने के लिए सशक्त बनाता है। महेश पटेल उनके एक महत्वपूर्ण साथी हैं जो उनके छोटे भाई भी हैं। दोनों मिलकर समाज के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करते हैं।उनका झुकाव गुणवत्तापूर्ण कॉन्टेंट के सृजन की ओर है। श्री मनुपटेल के अनुसार "गुणवत्तापूर्ण साहित्य और कॉन्टेंट के साथ ही विश्व में किसी भी समाज का आध्यात्मिक ऐवम सामाजिक उन्नयन सम्भव है”। उन्होंने श्री महेश पटेल के साथ मिलकर'श्री प्राणनाथ मल्टीमीडिया सोसाइटी'की स्थापना करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी जो महान भारतीय चरित्रों की कहानियों के पुनर्निर्माण में विश्वास करती है। भारत के इतिहास के प्रति अपने अखंड प्रेम के कारण उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर एक लोकप्रिय टेलीविजन शो "श्री प्राणनाथ जी" का भी निर्माण किया था , जो दर्शकों के बीच तत्काल हिट हो गया था और अभी भी दुनिया भर में लाखों लोग इसका आनंद लेते हैं।

इस संस्थाकी नवीन प्रस्तुति “छत्रसाल’ वेब सिरीज़ है –––जो एमएक्स प्लेयर ऐप पर सम्पूर्ण विश्व में निःशुल्क देखी ज़ा सकती है।सीरीज में कई बड़े स्टार जैसे आशुतोष राणा, नीना गुप्ता, जितिन गुलाटी, मनीष वाधवा, वैभवी शांडिल्य और अन्य शामिल हैं। सीरीज का निर्देशन अनादि चतुर्वेदी ने किया है।

Posted By: Arvind Dubey