अभिनेता कबीर बेदी ने हाल ही में अपनी बायोग्राफी ‘स्टोरीज आई मस्ट टेल: द इमोशनल लाइफ ऑफ द एक्टर’ रिलीज की है। इस किताब के सामने आते ही एक बार फिर उनकी लव लाइफ चर्चा में आ गई है। उन्होंने अपनी किताब में परवीन बाबी के साथ रिश्ते और टूटती शादी के बारे में कई खुलासे किए हैं।

प्रोतिमा गुप्ता से शादी के बाद परवीन के प्यार में पड़ गए थे कबीर

कबीर ने लिखा है ‘मुझे याद है हमारा प्यार और जुनून। मैंने उसकी मानसिक स्थिति को महसूस किया और लंबे समय से दबा मेरा गुस्सा बाहर आ गया। मैंने खुद को याद दिलाया कि यह उसकी गलती नहीं थी। शायद मैं भी उतना ही दोषी था। शायद मुझे पहले ही चले जाना चाहिए था। फिर भी मैं नहीं कर सका। उसे मेरी सख्त जरूरत थी। मैंने अपने आप को उसके रक्षक के रूप में देखा।‘ कबीर बेदी ने डांसर प्रोतिमा गुप्ता से शादी की थी। इसके बाद वो खूबसूरत अदाकारा परवीन बाबी के प्यार में पड़ गए थे।

कबीर के अलावा डैनी और महेश भट्ट से भी थे परवीन के संबंध

परवीन की मौत पर कबीर ने लिखा है ‘आखिर में, मुझे पता चला कि परवीन की मौत कैसे हुई थी। निधन के चार दिन बाद उनका शव उनके जुहू स्थित फ्लैट में पाया गया था। उनके पैर में गैंग्रीन था और वह व्हीलचेयर पर थीं। कभी लाखों लोगों की कल्पना में रहने वालीं एक स्टार का निधन बेहद अकेलापन से भरा और दुखद रहा।‘ आपको बता दें कि कबीर बेदी के अलावा महेश भट्ट और डैनी डेन्जोंगपा से भी परवीन के संबंध थे। साल 2005 में मल्टीपल ऑर्गन फेल होने से उनकी मौत हुई थी।

कबीर ने याद किया परवीन का अंतिम संस्कार

परवीन की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार पर कबीर ने लिखा ‘तीन लोग जो उन्हें जानते थे और उनसे प्यार करते थे - महेश, डैनी और मैं, उनके अंतिम संस्कार के लिए जुहू में कब्रिस्तान में गए थे। इस्लामिक तरीके से उनका शव दफनाया गया। मुझे महसूस हुआ वह मुझसे मिले दुख से पीड़ित थीं। हम में से प्रत्येक ने उन्हें न जाने कितने तरीकों से जाना था। हम में से हर कोई उनसे प्यार करता था।‘

केवल मैं ही जानता हूं कि मैने क्या कीमत चुकाई

कबीर ने आगे लिखा ‘तब तक मैं भी मानसिक और भावनात्मक रूप से थक चुका था। बगैर किसी ठहराव के मैं एक भावनाओं से भरी महिला से दूसरी की ओर जा रहा था। कोई मुझे समय नहीं दे रहा था। लोग मेरे बारे में सोचते थे कि ‘यह कितना लकी है’ जो एक के बाद एक खूबसूरत महिलाओं के साथ है। केवल मैं ही जानता हूं कि एक भावुक आदमी होने की वजह से मैंने जो कीमत चुकाई है।‘

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags