Sushant Singh Rajput Case में प्रवर्तन निदेशालय (ED) एवं CBI के बाद NCB के भी शामिल हो जाने से कई बड़े चेहरों के बेनकाब होने की संभावना दिखाई दे रही है। ईडी से मिली सूचना के आधार पर नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने भी बुधवार को दिल्ली में रिया चक्रवर्ती, भाई शौविक चक्रवर्ती तथा उसके दोस्तों के खिलाफ नार्कोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सब्सटैंस (एनडीपीएस) अधिनियम की धारा 20, 22, 27 व 29 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुकदमा दर्ज करने वाली एनबीसी तीसरी केंद्रीय एजेंसी है। इससे पहले ईडी व सीबीआइ भी मामले में रिपोर्ट दर्ज कर चुकी हैं। सुशांत मामले में जल्दी ही एनसीबी की टीम भी मुंबई आकर कई लोगों से पूछताछ कर सकती है। ईडी ने मंगलवार को ही एनसीबी को रिया के ड्रग्स तस्करों से जुड़े होने की जानकारी दे दी थी। रिया के मोबाइल चैट का पुराना डाटा खंगालते हुए ईडी को ऐसे संवाद हाथ लगे, जिनमें हैश, एमडीएमए, मरीजुआना, सीबीडी ऑयल जैसे ड्रग्स की खरीद-बिक्री का जिक्र हुआ है। इस संबंध में कभी रिया की उसकी टैलेंट मैनेजर जया साहा से तो कभी सुशांत के घर पर काम करनेवाले दीपेश सावंत से बातचीत हुई है।

श्रुति मोदी, सिमोन खंबाटा व गौरव शर्मा का क्‍या है कनेक्‍शन

बातचीत में इन दोनों के अलावा श्रुति मोदी, सिमोन खंबाटा व गौरव शर्मा का भी जिक्र आता है। गौरव शर्मा पुणे का ड्रग्स डीलर है, जिसके फिलहाल गोवा में रहने की सूचना है। वाट्सएप चैट में जया साहा जहां चाय या पानी में ड्रग्स लेने का तरीका बताती है, वहीं दीपेश सावंत कल्याण के निकट डोंबीवली में ड्रग्स का बैग 5,000 रुपये में मिलने की बात कर रहा है। ईडी ने इसी सिलसिले में रिया चक्रवर्ती की टैलेंट मैनेजर जया साहा से बुधवार को लंबी पूछताछ की है। दिन भर चली पूछताछ के बाद जया शाम करीब आठ बजे ईडी ऑफिस से निकली।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close