रितिक रोशन की 'सुपर 30' आज रिलीज हुई है। सिनेमाघरों का हाल देखकर लग ही नहीं रहा कि रितिक की फिल्म रिलीज हुई है। सुबह के शो लगभग खाली चल रहे हैं। सिनेमाघर अपनी क्षमता का 10 फीसद ही भर पाए। जाहिर है लोगों ने जहमत नहीं उठाई कि सुबह-सुबह फिल्म देखने पहुंचा जाए। यह संकेत अच्छा नहीं है। इससे पता लगता है कि 'सुपर 30' के लिए लोगों में कोई उत्सुकता नहीं है।

रितिक ने इस फिल्म का प्रचार नहीं किया है। यह फिल्म बिहार के आनंद कुमार के संघर्ष की कहानी है जो 30 गरीब बच्चों को आईआईटी के लिए हर साल मुफ्त में तैयार करते हैं। मेकर्स ने इस फिल्म का प्रचार आनंद कुमार से ही करवाया। रितिक इसमें होते हुए भी नहीं हैं, क्योंकि आनंद कुमार इस पर खूब हावी हैं। अब सुपरस्टार को दबाने का खामियाजा यह फिल्म भुगत सकती है क्योंकि भीड़ आनंद कुमार नहीं, रितिक रोशन जमा कर सकते हैं।

विकास बहल की यह फिल्म अब पब्लिक रिएक्शन पर आ टिकी है। अगर लोगों ने तारीफ की तो यह आगे बढ़ेगी, नहीं तो वाकई '30' लोगों तक सीमित हो जाएगी। वैसे बता दें कि यह 3200 स्क्रीन्स पर रिलीज हुई है। इतनी स्क्रीन्स पर इसे तगड़ी कमाई होना चाहिए। इतनी तादाद में अगर फिल्म लगती है तो 30 से 32 करोड़ रुपए रोज कमाने की क्षमता इसे हासिल होती है। जानकार मान रहे हैं कि इसे पहले दिन 10 करोड़ मिलेंगे। यानी 30 फीसद कमाई का ही अनुमान लगाया जा रहा है। ऐसे में 10 करोड़ आ भी जाते हैं तो यह बड़ी बात नहीं है। वैसे लग नहीं रहा है कि इतनी भी कमाई होगी, अभी तो आंकड़ा 8 करोड़ रुपए के करीब ही नजर आ रहा है।

शाम के शो से उम्मीद है, भीड़ बढ़ेगी और कमाई भी। समीक्षाओं में भी मिला-जुला रिएक्शन है। विकास बहल इसके निर्देशक हैं। बंद हो चुके बैनर 'फैंटम फिल्म्स' ने इसे बनाना शुरू किया था। अनुराग कश्यप ने इसे एडिट करने में हाथ लगाया है।