Sushant Singh Rajput मामले में लगातार कई चीजें सामने आ रही हैं। रविवार को एक नया मोड़ आया। शिवसेना के नेता एवं सांसद संजय राउत ने एक लेख लिखा जिस पर सुशांत के परिजनों के आपत्ति ली है। राउत ने शिवसेना के मुखपत्र सामना में कहा है कि सुशांत के पिता द्वारा दूसरी शादी के कारण उनके संबंध उनसे अच्छे नहीं थे। डॉ. सिंह ने कहा कि सुशांत के पिता की कोई दूसरी शादी नहीं हुई। सुशांत के चाचा डॉ. डीके सिंह ने शिवसेना सांसद संजय राउत के आलेख पर कड़ी आपत्ति जताई है। डॉ. सिंह ने कहा कि सुशांत के पिता की कोई दूसरी शादी नहीं हुई। जांच को प्रभावित करने के लिए इस तरह की उलटी-सीधी बातें की जा रही हैं। इससे पूरे परिवार को ठेस पहुंची है। राउत के बयान और सीबीआइ जांच पर आपत्ति के सवाल पर जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि उद्धव ठाकरे सीबीआइ जांच से क्यों डर रहे हैं। क्या CBI पर भी भरोसा नहीं है? महाराष्ट्र पुलिस ने 60 दिनों में कौन सी जांच कर ली? शिवसेना किसी खास व्यक्ति को बचाने के लिए इस तरह की घटिया बातें कर रही है। इस तरह की बातें खुद इशारा कर रहीं कि शिवसेना बेचैन है। दाल में कुछ काला है।

राउत पर बुरी तरह भड़के डीजीपी, यह कहा

संजय राउत के आलेख के बाद बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय बुरी तरह भड़क गए हैं। शिवसेना के मुखपत्र सामना में छपे राउत के आलेख के बाद पांडेय ने रविवार को ट्वीट कर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। डीजीपी ने कहा है कि जीवन भर निष्पक्ष रहकर उन्होंने निष्ठापूर्वक आम जनता की सेवा की है। संजय राउत ने अपने आलेख में गुप्तेश्वर पांडेय को भाजपा का आदमी करार दिया है और कहा है कि केंद्र से मिलकर बिहार सरकार महाराष्ट्र के खिलाफ साजिश कर रही है। पांडेय ने कहा है कि मुझे जितनी गाली देना है, दो किंतु सुशांत को न्याय दिला दो। पांडेय ने लिखा है कि हिफाजत हर किसी की मालिक बहुत खूबी से करता है। हवा भी चलती रहती है। दीया भी जलता रहता है।

संजय-आदित्य का नार्को टेस्ट होना चाहिए : BJP

भाजपा प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने सामना के आलेख को शर्मनाक बताते हुए कहा कि सीबीआइ को संजय राउत और आदित्य ठाकरे का नार्को टेस्ट कराना चाहिए। कांग्रेस नेता राहुल गांधी एवं प्रियंका गांधी को भी इस मामले पर चुप्पी तोड़नी चाहिए। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी सुशांत की संदेहास्पद मृत्यु के तुरंत बाद सामना ने एक घटिया आलेख लिखा था। इसमें सुशांत के परिवार, प्रशंसकों और बिहार का अपमान किया गया है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020