Cannes Film Festival: 75वें कान्स फिल्म समारोह में इंडिया पवेलियन के उद्घाटन के मौके पर सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने एक बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि मुझे आज कान्स में भारत में विदेशी फिल्मों के ऑडियो-विजुअल सह-निर्माण और शूटिंग के लिए एक प्रोत्साहन योजना की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है, जिसमें 260,000 डॉलर की सीमा के साथ 30% तक नकद प्रोत्साहन दिया जाएगा। वहीं अगर कोई विदेश फिल्म की भारत में शूटिंग होती है,तो 65000 यूएस डॉलर तक का अतिरिक्त बोनस मिलेगा, बशर्ते इसमें 15 फीसदी या उससे अधिक भारतीय मैनपॉवर का इस्तेमाल किया गया हो। उन्होंने भरोसा दिलाया कि हम भारत को दुनिया का कंटेंट हब बनाने, फिल्म निर्माण और पोस्ट-प्रोडक्शन के लिए भारत को दुनिया का गंतव्य बनाने के लिए जो कुछ भी कर सकते हैं, करेंगे।

फ्रांस में आयोजित कांस फिल्म फेस्टिवल में सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर के नेतृत्व में एक बड़ा दल भारत का प्रतिनिधित्व कर रहा है। फेस्टिवल के दूसरे दिन एक संवाद सत्र आयोजित हुआ, जिसमें अनुराग ठाकुर, अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, तमन्ना भाटिया, अभिनेता आर. माधवन, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, फिल्म निर्देशक शेखर कपूर, संगीतकार ए.आर. रहमान और फ्रांस में भारत के राजदूत जावेद अशरफ ने हिस्सा लिया। इस मौके पर दीपिका पादुकोण ने कहा कि 15 साल बाद जूरी पैनल का हिस्सा बनकर विश्व के सबसे बेहतरीन सिनेमा का अनुभव लेना मेरे लिए खुशी की बात है, मैं शुक्रगुज़ार हूं। उन्होंने ये भी कहा कि मुझे पूरा विश्वास है जल्दी ही ऐसा दिन आएगा, जब भारत कान्स में शामिल होने के लिए नहीं, बल्कि कान्स ही भारत पहुंचेगा।

इस मौके पर फिल्म निर्देशक शेखर कपूर ने कहा कि भारत कहानियों की भूमि है। हमें विश्वास के साथ आगे आना होगा कि विश्व हमें स्वीकार करेगा। कान्स के आयोजन से ज्यादा जरूरी है कि इसके बाद इसके परिणाम का इस्तेमाल हम कैसे करते हैं। उन्होंने कहा हम वर्षों से पश्चिम से प्रेरणा लेते रहे हैं। लेकिन अब वेस्ट थम सा गया है, जबकि ईस्ट ऊपर उठ रहा है। मुझे उम्मीद है कि अगला कान्स भारत में होगा।

अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने भी कहा कि हमारे देश में बहुत स्टोरी हैं जो लोकल हैं, लेकिन वैश्विक स्तर पर वे काफी काम कर सकती हैं। हमारे यहां हर जगह एक कहानी है। ऐसी फिल्मों को प्रोत्साहन बहुत कम मिलता है। मैं उम्मीद करता हूं कि अनुराग ठाकुर जी इस तरह की फिल्मों को बढ़ावा देने में मदद करेंगे।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close