अभिनेत्री रश्मि अगडेकर हमेशा से सामाजिक मुद्दों पर बिना हिचकिचाए बेबाक अंदाज़ में अपनी बातें रखती रही हैं। हाल ही में मद्रास उच्च न्यायालय ने LGBTQA+ समुदाय का समर्थन करते हुए एक प्रगतिशील कदम उठाया है, जिसमें छात्रों को इस बारे में जागरूक करने के लिए स्कूल और विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम में बदलाव का सुझाव दिया गया है। रश्मि अगडेकर ने इस समुदाय के पक्ष में कोर्ट के लिए फैसले का खुलकर समर्थन किया है।

अभिनेत्री रश्मि अगडेकर ने कहा कि “ये एक महत्वपूर्ण और सही कदम है, जो LGBTQA कम्युनिटी को शामिल कर रहे हैं। इससे बच्चों के बीच छोटी उम्र से ही इस कम्युनिटी के बारे में सही और सटीक जानकारी के साथ-साथ जागरूकता भी बढ़ेगी और समय पर वो अपने आस-पास मौजूद इस समाज के लोगों को अपना लेंगे। आखिर बच्चे इस विश्व का भविष्य है।"

रश्मि अगडेकर ने मद्रास उच्च न्यायालय में LGBTQ समुदाय के लिए एक सुझाव पेश करते हुए इस समाज के समर्थन की बात की है। एक्ट्रेस ने अपने सुझाव में कहा कि LGBTQ समाज की तरफ लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए इससे जुड़ी कई कहानी और किस्सों को स्कूल और विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम में शामिल करना चाहिए। मद्रास हाई कोर्ट ने कहा कि LGBTQIA+ समुदाय के लोगों को परिवार और समाज की नफरत से बचाना राज्य की जिम्मेदारी है। इस वक्त ‘समाज को बदलाव की जरूरत है, LGBTQIA+ कपल्स को नहीं।’

अभिनेत्री रश्मि ने अपनी एक्टिंग की शुरुआत 2017 में वेब सीरीज देव दी दी से की, जहाँ उन्होंने एक लेस्बियन का किरदार निभाया था। इस दौरान उन्होंने LGBTQ समाज को अंदर और बाहर से बड़े ही अच्छे तरीके से समझा। इसके बाद वो फिल्म अंधाधुन में आयुष्मान खुराना के साथ नज़र आयी थी।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags