Election Result Actor Prakash Raj defeated। चर्चित फिल्म अभिनेता प्रकाश राज की चुनाव में करारी शिकस्त हुई है और मूवी आर्टिस्ट एसोसिएशन (MAA) के चुनावों में अभिनेता मांचू विष्णु ने रविवार को उन्हें करारी शिकस्त दी है। दक्षिण भारतीय फिल्मों के विख्यात अभिनेता मोहन बाबू के बेटे मांचू विष्णु ने प्रकाश राज को 106 मतों से मात दी है। मूवी आर्टिस्ट एसोसिएशन के चुनावों में चुनाव अधिकारी कृष्ण मोहन ने दिनभर के सस्पेंस को खत्म करते हुए रविवार रात चुनाव परिणामों की घोषणा की है। इन चुनावों में विष्णु को 380 वोट मिले, वहीं प्रकाश राज को सिर्फ 274 वोट मिले हैं।

लोकसभा चुनाव भी लड़ चुके हैं प्रकाश राज

प्रकाश राज मूल रूप से कर्नाटक के रहने वाले हैं और तेलुगु और अन्य दक्षिण भारतीय फिल्मों में अपने शानदार अभिनय के लिए विख्यात हैं। प्रकाश राज ने साल 2019 में निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में बेंगलुरु सेंट्रल से लोकसभा चुनाव लड़ा था और तब भी चुनाव हार गए थे।

मांचू विष्णु पैनल की भी शानदार जीत

मूवी आर्टिस्ट एसोसिएशन में मांचू विष्णु पैनल की शानदार जीत हुई है। विष्णु की पैनल ने उपाध्यक्ष, महासचिव और कोषाध्यक्ष के प्रमुख पदों पर भी कब्जा जमाया। साथ ही माधला रवि प्रकाश राज पैनल की बनर्जी को हराकर उपाध्यक्ष चुन ली गई है।

महासचिव पद के लिए रघु बाबू का चुनाव

इन चुनावों में महासचिव पद के लिए रघु बाबू चुने गए हैं। रघु बाबू ने जीविता राजशेखर को 7 मतों से शिकस्त दी है। शिव बालाजी कोषाध्यक्ष चुने गए, उन्होंने नगीनेदु को 32 वोटों से शिकस्त दी है। बालाजी को 316 वोट मिले जबकि नगीनेदु को 284 वोट हासिल हुए हैं। वहीं प्रकाश राज पैनल की बात की जाए तो सिर्फ अभिनेता श्रीकांत कार्यकारी उपाध्यक्ष चुने गए। उन्होंने विष्णु पैनल के बाबू मोहन को हराया है।

मेगास्टार चिरंजीवी और मोहन बाबू के परिवार में कड़ी टक्कर

इस चुनावों में मेगास्टार चिरंजीवी और अभिनेता मोहन बाबू के परिवारों के बीच चुनावी खींचतान जमकर देखी गई थी। चिरंजीवी के परिवार ने प्रकाश राज का समर्थन किया था, वहीं मोहन बाबू ने अपने बेटे मांचू विष्णु के लिए सक्रिय रूप से जमकर प्रचार किया था। हालांकि चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद चिरंजीवी ने विष्णु और नए निकाय के अन्य सदस्यों को बधाई देने के लिए ट्वीट भी किया और उम्मीद जताई कि नया पैनल सभी कलाकारों के हित में दिल लगाकर काम करेगा। साथ ही चिरंजीवी ने यह भी लिखा कि मूवी आर्टिस्ट एसोसिएशन हमेशा एक परिवार रहा है। हमें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन जीतता है, यह हमारे परिवार की जीत है। चुनाव प्रक्रिया पूरी तरह से निष्पक्ष रही है।

प्रकाश राज पर लगते रहे हैं हिंदू भावनाओं के से खिलवाड़ के आरोप

अभिनेता प्रकाश राज जहां एक अच्छे कलाकार हैं और उनकी एक्टिंग काफी पसंद भी की जाती है, वहीं दूसरी ओर अपने विवादित बयानों और हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने जाने के आरोपों के कारण भी सुर्खियों में बने रहते हैं। एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में प्रकाश राज ने रामलीला की तुलना चाइल्ड पोर्न से कर दी थी। इस कारण से सोशल मीडिया पर प्रकाश राज काफी ट्रोल भी हुए थे। प्रकाश राज का यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने का साथ ही उन्हें काफी आलोचना का भी शिकार होना पड़ा था।

तेलुगु सिनेमा 6 बार प्रकाश राज पर लगा चुका है बैन

प्रकाश राज काफी गुस्सैल प्रवृत्ति के हैं और कभी कभी बगैर किसी कारण से भी लोगों पर अचानक बिफर जाते हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तेलगु सिनेमा अब तक 6 बार प्रकाश राज पर प्रतिबंध लगा चुका है। प्रकाश राज फिल्मों में मुख्य रूप से विलेन की भूमिका में ज्यादा दिखाई देते हैं। वे अभी तक हिंदी फिल्मों सिंघम,दबंग 2, बुड्ढा होगा तेरा बाप,सिंह साहब द ग्रेट,वांटेड,जंजीर जैसी फिल्मों में काम कर चुके हैं। प्रकाश राज को हिंदी सिनेमा में पहचान सलमान खान स्टारर फिल्म वांटेड से मिली थी। वे अपने 29 साल के करियर में 5 बार राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किए जा चुके हैं।

Posted By: Sandeep Chourey