Happy Birthday Rakhi Gulzar: बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस राखी गुलजार 15 अगस्त को अपना जन्मदिन मना रही हैं। राखी का जन्म रानाघाट (पश्चिम बंगाल) में हुआ था। यहीं के एक लोकल गर्ल्स स्कूल से उन्होंने पढ़ाई की। महज 16 साल की उम्र में राखी की शादी बंगाली पत्रकार और फिल्म डायरेक्टर अजय बिश्वास से हुई थी। हालांकि, दो साल बाद उनका तलाक हो गया। इसके करीब 8 साल बाद राखी ने जाने-माने लिरिसिस्ट गुलजार से दूसरी शादी कर ली।

इस फिल्म में दिया था किसिंग सीन

राखी ने 20 साल की उम्र में फिल्मों में एंट्री ले ली थी। साल 1967 में आई बंगाली फिल्म 'बधू बरण' में वे पहली बार पर्दे पर दिखाई दी थीं। इसके करीब तीन साल बाद 1970 में उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म आई, जिसका नाम था 'जीवन मृत्यु'। इस फिल्म में राखी के साथ धर्मेंद्र नजर आए थे। साल 1984 में आई राखी की बंगाली फिल्म परामा में उनका किसिंग सीन काफी चर्चा में रहा था। इसके बाद से राखी की इमेज एक बोल्ड एक्ट्रेस के रूप में बन गई थी।

बेटी की वजह से नहीं लिया तलाक

राखी गुलजार की मल्टीटैलेंटेड पर्सनैलिटी से प्रभावित थीं। वहीं, गुलजार राखी के बंगाली कल्चर से काफी प्रभावित थे। ये दोनों 15 मई 1973 में शादी के बंधन में बंध गए थे। इनकी शादी के कुछ वक्त बाद गुलजार-राखी के घर उनकी बेटी मेघना का जन्म हुआ। लेकिन, बेटी के जन्म के एक साल बाद ही दोनों ने अलग होने का फैसला ले लिया, लेकिन बेटी मेघना की वजह से आज तक तलाक नहीं लिया है।

मीना कुमारी से थी गुलजार की दोस्ती

बहुत सी रिपोर्ट्स में ये कहा गया है कि मीना कुमारी और गुलजार के बीच अच्छी दोस्त थीं। उर्दू प्रेम के कारण मीना और गुलजार करीब आ गए थे। इतना ही नहीं मरने से पहले मीना कुमारी ने अपनी कविताओं की डायरी गुलजार को सौंप दी थी। इनमें से कई कविताएं गुलजार ने प्रकाशित भी करवाई।

इसलिए होते थे दोनों के झगड़े

रिपोर्ट के अनुसार शादी के बाद भी राखी फिल्मों में काम करना चाहती थीं, लेकिन गुलजार इसके खिलाफ थे। राखी चाहती थीं कि गुलजार उन्हें अपनी निर्देशित फिल्मों में काम दें। लेकिन, गुलजार ने राखी को एक भी फिल्म में साइन नहीं किया। वहीं, राखी को हर रोज कई फिल्म मेकर्स के ऑफर आ रहे थे। राखी जब भी गुलजार से उन ऑफर के बारे में बात करती थीं तो उनके बीच झगड़े शुरू हो जाते थे।

इस फिल्म की वजह से हुए थे अलग

एक रिपोर्ट के अनुसार गुलजार की निर्देशित फिल्म आंधी की शूटिंग के बाद फिल्म की यूनिट पार्टी कर रही थी। इस फिल्म में लीड किरदार में सुचित्रा सेन और संजीव कुमार थे। पार्टी में संजीव कुमार नशे की हालत में सुचित्रा के करीब जाने की कोशिश कर रहे थे। इसके बाद गुलजार सुचित्रा को उनके कमरे में छोड़ने जा रहे थे, उसी वक्त राखी वहां पहुंच गई। गुलजार को सुचित्रा के साथ देखकर राखी गुस्सा हो गई और दोनों के बीच लड़ाई हो गई। इसके बाद इनके रिश्तें में बेहद कड़वाहट आ गई थी। झगड़े के कुछ ही दिनों बाद राखी ने गुलजार के मना करने के बाद भी यश चोपड़ा की फिल्म 'कभी-कभी' साइन कर ली। राखी के फिल्म साइन करने के बाद से ही दोनों के रास्ते अलग-अलग हो गए।