Justice for Bruno: केरल में एक कुत्ते के साथ हुई अमानवीयता का दिल दहला देने वाला वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में कुछ लोग एक कुत्ते को बोट से बांधकर पीटते हुए दिख रहे हैं। ब्रूनो नाम के इस कुत्ते को इन लोगों ने पीट पीटकर मौत के घाट उतार दिया। कुत्ते तो सिर्फ इसलिए लाठी डंडों से पीटकर मार दिया गया क्योंकि वह किसी को बोट के नीचे सो गया था। इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर कुत्ते के लिए न्याय मांगा जा रहा है। बॉलीवुड की कई अभिनेत्रियों ने भी ब्रूनो के लिए न्याय मांगा है।

आलिया भट्ट, मलाइका अरोड़ा, दिशा पटानी, सोफी चौधरी और जैकलीन फर्नांडिस ने अपने सोशल मीडिया के जरिए ब्रूनो के लिए न्याय मांगा है। आलिया भट्ट ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर लिखा "घिनौना कृत्य, जब तक उन्हें दंडित नहीं किया जाता, तब तक वे इससे बाज नहीं आएंगे! ऐसी विकृत मानसिकता वाले लोग बदलने वाले नहीं हैं!!!"

वहीं बॉलीवुड एक्ट्रेस जैकलीन फर्नाडिंस ने लिखा "जस्टिस फॉर ब्रूनो" साथ ही उन्होंने गुस्से वाला एक इमोजी भी लगाया। दिशा पटानी ने की दोषियों को सजा दिलाने की मांग की।

एक्ट्रेस सोफी चौधरी ने 2 जुलाई के दिन अपने ट्वीट में केरल के मुख्यमंत्री को टैग करते हुए लिखा " माननीय मुख्यमंत्री जी आपके राज्य में जानवरों के साथ क्रूरता का एक और मामला। क्या हम आपको याद दिला सकते हैं कि किसी भी देश की महानता और नैतिक प्रगति इस बात से पता चलती है कि वहां जानवरों के साथ कैसा व्यवहार होता है। उम्मीद करती हूं कि आप इसकी शुरुआत करेंगे और कठोर नियम बनाएंगे।"

क्या है मामला

थिरुवनंतपुरम के पास अदिमलाथुरा बीच में कुछ लोगों ने ब्रूनो नाम के एक लैब्राडॉर को बोट से बांधकर तह तक पीटा था, जब तक कुत्ते की मौत नहीं हो गई थी। सोशल मीडिया पर यह मामला सामने आने के बाद लोगों का गुस्सा उमड़ा था और कार्रवाई की मांग हुई थी। इस कुत्ते के मालिक की बहन ने टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ बातचीत में बताया था कि वह कुत्ता 8 सालों से उनके साथ रह रहा था। उनके बच्चे उसी कुत्ते के साथ खेलते थे और वह उन्हीं के घरों से खाना खाता था। वह उनके लिए परिवार का एक सदस्य था। हाल ही में ब्रूनो ने बीच जाना शुरू किया था। आमतौर पर वह दोपहर तक वापस आ जाता था।

हाईकोर्ट ने भी दिखाई सख्ती

इस मामले में हाईकोर्ट ने सख्ती दिखाते हुए कहा है कि मीडिया में पिछले 2 सालो में ऐसे कई मामले सामने आए हैं। केरल में जानवरों के साथ अमानवीयता रुक नहीं रही है। राज्य सरकार को इस मामले में एक्शन लेने की जरूरत है। इससे पहले दक्षिण भारत में जानवरों के साथ क्रूरता के कई मामले सामने आए हैं। ऐसे ही एक मामले में कुछ लोगों ने एक हाथी को पटाखे खिला दिए थे। यह मामला भी सोशल मीडिया पर सामने आया था और लोगों ने न्याय मांगा था। इसके बाद आरोपियों पर कार्रवाई भी हुई थी।

Posted By: Arvind Dubey