Raju Srivastav Love Story। कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को 10 अगस्त को जिम में एक्सरसाइज के दौरान हार्ट अटैक आया था और उसके बाद करीब 42 दिन कोमा में रहने के बाद आज सुबह उनका निधन हो गया। 42 दिन तक दिन राजू श्रीवास्तव मौत से जूझते रहे और आखिरकार जिंदगी की जंग हार गए। इस कठिन दौर में राजू श्रीवास्तव की पत्नी शिखा श्रीवास्तव लगातार उम्मीद जता रही थी राजू श्रीवास्तव जल्द ही ठीक होकर घर लौट आएंगे। राजू श्रीवास्तव और शिखा की प्रेम कहानी भी काफी दिलचस्प है।

ऐसी है राजू श्रीवास्तव की लव स्टोरी

राजू श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर के रहने वाले हैं और साल 1993 में उनकी शादी शिखा श्रीवास्तव के साथ हुई थी। राजू ने अपने प्यार को पाने के लिए करीब 12 साल का लंबा इंतजार किया, तब कहीं जाकर उनकी प्रेम कहानी सफल हुई थी।

भाई की शादी में बाराती बनकर गए, शिखा को दिल दे बैठे

राजू श्रीवास्तव अपने भाई की शादी में बाराती बनकर फतेहपुर गए थे और तभी शादी में पहली बार उन्होंने शिखा को देखा था। शिखा को देखते ही वे उन्हें दिल बैठे। बाद में उन्हें पता चला कि शिखा कोई और नहीं, लड़की बल्कि उनकी होने वाली भाभी की चचेरी बहन है। शिखा का परिवार इटावा में रहता था। इसके बाद राजू श्रीवास्तव किसी न किसी बहाने इटावा जाने लगे और शिखा से उनकी मुलाकात बढ़ने लगी। काफी हिम्मत करने के बाद भी राजू श्रीवास्तव शिखा के सामने अपने प्यार का इजहार नहीं कर पाए थे।

1982 में मुंबई आ गए राजू श्रीवास्तव

साल 1982 में राजू श्रीवास्तव अपनी किस्मत आजमाने के लिए मुंबई आ गए, लेकिन कभी भी शिखा को नहीं भूले। इस दौरान राजू और शिखा एक दूसरे को पत्र भी लिखते थे। राजू श्रीवास्तव ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि उन्हें इस बात का अंदाजा था कि शिखा भी उन्हें पसंद करती हैं क्योंकि जब भी उनके पास शादी के लिए कोई रिश्ता आता था तो वह मना कर देती थी। राजू मुंबई में बस गए तो उन्होंने अपने घरवालों को शिखा के साथ रिश्ते के बारे में बात करने के लिए मना लिया। शिखा के भाई मुंबई में राजू के घर गए और वहां उनका घर और रहन-सहन देखा। दोनों की पहली मुलाकात के करीब 12 साल बाद दोनों शादी के बंधन में बंध गए।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close