बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान नवाब है। वह रॉयल फैमिली से आते हैं। उनके पास कथित तौर पर 5000 करोड़ रुपए की संयुक्त संपत्ति है, जिसमें हरियाणा में पटौदी पैलेस और भोपाल में उनकी अन्य पैतृक प्रॉपर्टी भी शामिल है। हालांकि क्या आप जानते हैं सैफ इस 5000 करोड़ की संपत्ति का एक भी पैसा अपने बच्चों सारा, इब्राहिम, तैमूर और जहांगीर अली को नहीं दे पाएंगे। शायद आपको यकीन ना हो, लेकिन ऐसा सच है। आइए जानते हैं ऐसे क्यों।

दरअसल एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पटौदी हाउस से संबंधित सभी संपत्तियां और अन्य प्रांसिंग प्रॉपर्टी भारत सरकार के विवादास्पद शत्रु विवाद अधिनियम के अंतर्गत आती हैं। इस तरह कोई भी ऐसी किसी भी संपत्ति का उत्तराधिकारी होने का दावा नहीं कर सकता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर कोई व्यक्ति विरोध करना चाहता है। उसे अपनी संपत्ति मानता है, तो उन्हें उच्च न्यायालय का रुख करना होगा। लेकिन सुप्रीम कोर्ट में विफल होने पर उन्हें राष्ट्रपति के पास जाना होगा। बता दें सैफ के परदादा हमीदुल्लाह खान, ब्रिटिश शासन के नवाब थे।

उन्होंने कभी अपनी सभी संपत्तियों के लिए एक वसीयत नहीं बनाई। जिसके कारण परिवार के भीतर कुछ विवाद है। सैफ अली की फैमिली की बात करें तो अमृता सिंह उनकी पहली पत्नी है, जिनसे उनके दो बच्चे सारा और इब्राहिम हैं, वहीं करीना कपूर से दूसरी शादी की और तैमूर और जहांगीर के माता-पिता हैं।

Posted By: Sandeep Chourey