Sushant Rajput Live Update: सुशांत सिंह राजपूत के परिवार की करीबी दोस्त स्मिता पारिख का दावा है कि अपनी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मृत्यु के बाद यह अभिनेता परेशान रहने लगा था। Sushant ने अपनी बहन मीतू से कहा था कि 'वे लोग' उसे नहीं छोड़ेंगे। 'वे लोग" से उनका क्या आशय था यह मैं नहीं जानती। दिशा की मौत आठ जून को 14वीं मंजिल से गिरने से हुई थी।

स्मिता ने एक चैनल के साथ बातचीत में कहा, सुशांत डिप्रेशन में नहीं थे। मैंने उनके साथ करीब एक साल तक म्यूजिकल या कविताओं को लेकर होने वाली बैठकों को लेकर 10 से 12 घंटे एकसाथ बिताए हैं। हम एक दूसरे के घर पर मिलते थे। मैं सुशांत के परिवार में प्रियंका सिद्धार्थ और हाल में मीतू सिंह से परिचित हुई।

स्मिता ने कहा, 'रिया ने आठ जून की सुबह सुशांत का घर छोड़ा था। मुझे बताया गया कि वह दो बड़े बैग में अपना सामान भरकर ले गई। वह उसके साथ ब्रेकअप कर चुकी थी। ड्राइवर से रिया को उसके घर छोड़ने को कहा गया। उसी शाम मीतू दीदी आई। उनका आना पहले से तय था। उनके आने से पहले रिया घर छोड़ गई थी। उस समय सुशांत नार्मल थे। वे टेबिल टेनिस खेल रहे थे। अगले दिन नौ जून को दिशा सालियन की मौत से सुशांत बहुत अपसेट हो गए थे। वे मीतू दी से लगातार कहने लगे थे अब वे लोग मुझे नहीं छोड़ेंगे। मेरे पीछे पड़ जाएंगे। मुझे नहीं पता, वे कौन थे।'

सुशांत ने 11 जून को अपने जीजा (प्रियंका के पति) सिद्धार्थ को फोन किया और कहा कि मुझे बहुत डर लग रहा है। क्या आप मुझे यहां से ले जाएंगे। वे उन्हें चंडीगढ़ ले जाने वाले थे। सुशांत पिछले साल नवंबर में फिल्म इंडस्ट्री छोड़ना चाहते थे, क्योंकि वे काफी घुटन महसूस कर रहे थे। सुशांत चंडीगढ़ में खेती करना चाहते हैं।

स्मिता ने स्वीकार किया कि यह सब उन्हें परिवार के सदस्य ने बताया है। स्मिता ने कहा मीतू ने सैकड़ों बार उनसे पूछा कि वह किस बात से डरे हैं। वे बस यही कहते रहे, 'ओह गॉड, ओह गॉड।'

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan