Sushant Singh Rajput Live Updates: सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। सुशांत की पूर्व गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने बिहार पुलिस को बताया था कि रिया चक्रवर्ती की वजह से सुशांत परेशान थे और रिया से ब्रेकअप करना चाहते थे। सुशांत की मौत के मामले को भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कई दिनों से उठा रखा है। सुब्रमण्यम स्वामी ने अब सुशांत की मौत को मर्डर बताया उन्होंने इसके पीछे 26 वजह भी बताई। Rhea Chakraborty और उसके परिजनों से पूछताछ हो सकती है। ऐसी खबरें थी कि FIR के बाद से रिया चक्रवर्ती अपने घर पर मौजूद नहीं हैं, लेकिन बिहार पुलिस ने साफ किया कि रिया फरार नहीं है और जरूरत पड़ने पर उसस पूछताछ की जाएगी।

इससे पहले ऐसी खबर थी कि जब पुलिस रिया चक्रवर्ती के घर पहुंची तो वो घर पर मौजूद नहीं थी, लेकिन बिहार पुलिस ने इस मामले में अपडेट दिया। सेंट्रल पटना एसपी विनय तिवारी ने कहा, ऐसा नहीं है कि रिया फरार है। जब जरूरत होगी तब पुलिस रिया से संपर्क करेगी। फिलहाल हम उनसे पूछताछ नहीं कर रहे हैं। शुरुआती जांच चल रही है, जैसे-जैसे तथ्य मिलेंगे, जांच आगे बढ़ेगी।

सुब्रमण्यम स्वामी ने सुशांत की मौत को बताया मर्डर, गिनाए ये कारण:

सुब्रमण्यम स्वामी के ट्वीट ने इस मामले में हलचल मचा दी है। राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने इस ट्वीट में 26 बिंदु देते हुए कहा कि इस वजह से उन्हें लगता है कि सुशांत ने आत्महत्या नहीं की, बल्कि उनकी हत्या की गई है। इन बिंदुओं में रूम में एंडी डिप्रेशन ड्रग्स से लेकर उनके गले के निशान तक शामिल है।

स्वामी ने कहा कि सुशांत के रूम में जो एंटी डिप्रेशन ड्रग्स मिले, हो सकता है उसे किसी ने वहां पर प्लांट किया हो। उनके गले पर जो फंदे का निशान है वह बेल्ट जैसी किसी चीज का लग रहा है। उनके कमरे में कोई छोटा टेबल या स्टूल नहीं मिला। इसकेअलावा सुशांत 14 जून यानी अपनी मौत के दिन सुबह घर पर वीडियो गेम खेल रहे थे, जो इंसान डिप्रेशन में होगा वो वीडियो गेम नहीं खेल सकता है।

सुब्रमण्यामी स्वामी शुरू से ही इस मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। उन्होंने इस संदर्भ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी पत्र लिखा था।

मायावती ने की CBI जांच की मांग:

इस मामले में बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख Mayawati ने इस मामले में CBI जांच की मांग की है। BSP प्रमुख और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने गुरुवार को इस मामले में दो ट्वीट किए। मायावती ने लिखा, 'बिहार मूल के युवा बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रोज नए तथ्यों का उजागर होना किसी बड़ी साजिश की ओर इशारा कर रहा है। अब उनके पिता द्वारा पटना पुलिस में FIR दर्ज कराने से यह मामला लगातार गहराता जा रहा है। अब मामले की जांच महाराष्ट्र व बिहार पुलिस के करने से बेहतर है कि प्रकरण की जांच CBI ही करे।

मायावती ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, सुशांत सिंह राजपूत की मौत के प्रकरण में महाराष्ट्र व बिहार के काग्रेंसी नेताओं के अलग-अलग रवैये से ऐसा लगता है कि इनका असल मकसद इस प्रकारण की आड़ में पहले अपने राजनीतिक स्वार्थ की पूर्ति करना है। इन सभी की वरीयता में पीड़ित परिवार को न्याय दिलाना बाद में है, जो कतई उचित नहीं। इस प्रकरण में महाराष्ट्र सरकार अब तो गंभीर हो।

बिहार पुलिस को नहीं मिली केस डायरी:

सुशांत सिह राजपूत आत्महत्या मामले की जांच करने मुंबई गई बिहार पुलिस की टीम को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा। चार सदस्यीय टीम को मुंबई पुलिस ने बुधवार को लंबे समय तक डीसीपी के कार्यालय में बैठाए रखा, मगर केस डायरी उपलब्ध नहीं कराई। टीम ने सुशांत की पूर्व गर्लफ्रेंड व चर्चित टीवी कलाकार अंकिता लोखंडे से पूछताछ की, जिन्होंने बताया कि सुशांत सिंह राजपूत को रिया चक्रवर्ती परेशान कर रही थी और वे रिया से ब्रेकअप करना चाहते थे। टीम ने सुशांत की बहन का बयान दर्ज किया है। बिहार पुलिस की टीम गुरुवार को सुशांत सिंह राजपूत के बैंक जा सकती है।

तो गिरफ्तार हो सकती हैं रिया :

मामले में सुप्रीम कोर्ट में लोकहित याचिका दायर करने वाली पटना हाई कोर्ट की अधिवक्ता मीनू कुमारी ने बताया कि एविडेंस एक्ट और IPC की धाराओं के आधार पर रिया चक्रवर्ती को पटना पुलिस गिरफ्तार कर सकती है। एविडेंस एक्ट के तहत अगर कड़ी दर कड़ी बातें आपस में मेल खा रही हैं तो रिया दोषी साबित होंगी। अधिवक्ता ने बताया कि रिया के बैंक अकाउंट में सुशांत ने करोड़ों रुपए भेजे थे। जब रिया उनके घर से चली गईं तो सुशांत ने नौकरों को बुलाकर सैलरी दी और कहा कि अभी ले लो, पता नहीं आगे सैलरी मिले न मिले। इससे ऐसा लगता है कि रिया की ब्लैकमेलिग से वे आर्थिक रूप से परेशान हो चुके थे। इसके बाद तीन दिन तक उनके मन में उथल-पुथल मची रही और उन्होंने तंग आकर मौत को गले लगा लिया। ऐसे में रिया पर आईपीसी की धारा 306 के तहत कार्रवाई हो सकती है।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस