सूचना प्रसारण मंत्रालय जल्द ही एक नया फरमान सुनाने जा रहा है। खबर है कि सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावणेकर टीवी सीरियल्स और फिल्मों के लिए आदेश जारी कर रहे हैं कि उन्हें भारतीय भाषा का उपयोग भी करना होगा। इसका असर यह होगा कि टीवी पर दिखने वाले सीरियल्स में अब नाम हिंदी या कोई क्षेत्रीय भाषा में देना ही होगा। ऐसा भारतीय भाषाओं को प्रमोट करने के लिए किया जा रहा है।

मंत्रालय का मानना है कि कई टीवी प्रोग्राम्स के अंत या शुरुआत में केवल अंग्रेजी में ही टाइटल्स दिए जाते हैं। अब चैनलों को आदेश जारी किया जा रहा है कि वे उस भारतीय भाषा में भी टाइटल्स दें जिसमें टीवी शो बना है। इस आदेश में टीवी चैनलों को यह छूट जरूर दी जाएगी कि वे अंग्रेजी में भी नाम / टाइटल्स दे सकते हैं। मंत्रालय उन्हें किसी तरह से रोक नहीं रहा है, बस यह चाह रहा है कि भारतीय भाषाओं को भी जोड़ा जाए। सिनेमाओं को भी ऐसे ऑर्डर जारी किए जा रहे हैं।

वक्त के साथ ही इस आदेश का असर दिखेगा, कि किस स्तर पर इसका पालन करवाया जाना है। अभी उन प्रोग्राम्स को लेकर भी स्थिति साफ नहीं है जो केवल अंग्रेजी में आते हैं। क्या कऱण जौहर के 'कॉफी विद करण' से भी उम्मीद की जाएगी कि हिंदी में टाइटल्स दे। पूरा आदेश सामने आने के बाद ही स्थिति साफ होगी।