KBC 13: टीवी शो 'कौन बनेगा करोड़पति का 13वां सीजन 23 अगस्त को शुरू हुआ था और अगस्त के महीने में ही इस सीजन का पहला करोड़पति विनर मिल चुका है। आगरा की रहने वाली दृष्टिबाधित शिक्षिका हिमानी बुंदेला ने 31 अगस्त के एपिसोड में 15 सवालों का सही जवाब देकर 1 करोड़ रुपये जीत हैं। हिमानी गणित की शिक्षिका हैं और एक हादसे ने उनसे उनकी आंखें छीन ली पर उनका उनका हौसला और ज्ञान नहीं छीन पाया। इसकी बदौलत उन्होंने 1 करोड़ रुपये अपने नाम किए। हालांकि हिमानी 16वें सवाल का जवाब नहीं दे पाईं और 7 करोड़ रुपये जीतने से चूक गईं।

हिमानी को 16वें सवाल का जवाब नहीं पता था। इसलिए उन्होंने गेम क्विट कर दिया। जो सवाल उन्हें 7 करोड़ रुपये जिता सकता था वो था "उस थीसिस का शीर्षक क्या था जिसे डॉ बी. आर. आंबेडकर ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स को प्रस्तुत किया था जिसके लिए उन्हें 1923 में डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया गया था?"

इसके 4 ऑप्शन थे-

A. द वांट ऐंड मीन्स ऑफ इंडिया

B. द प्रॉब्लम ऑफ द रुपी

C. नैशनल डिविडेंट ऑफ इंडिया

D. द लॉ ऐंड लॉयर

इसका सही जवाब था- B द प्रॉब्लम ऑफ द रुपी।

कैसे हुई तैयारी

हिमानी ने बताया "केबीसी के प्रति मेरा लगाव बचपन से ही बहुत ज्यादा था। जब मैं छोटी थी, तब से मुझे ये खेल इतना पसंद था कि मैं अपने दोस्तों के साथ केबीसी खेलती थी और उसमें अमिताभ सर बनती थी। केबीसी में जाने का सपना तो तब से था, जब से ये शो देखा। इसलिए, यह मेरे लिए अब तक का सबसे बेहतरीन पल रहा। रही बात तैयारी की, तो जब मैं 13 साल की थी, तब ट्यूशन पढ़ाती थी। तब से जनरल नॉलेज में मेरी रुचि है। मेरे दिन की शुरुआत करेंट अफेयर्स और जीके पढ़ने से होती है। ये मेरी आदत है, तो शो के लिए खास तौर पर कोई तैयारी नहीं करनी पड़ी। बस थोड़ा-बहुत रिवीजन किया।"

इन 1 करोड़ रुपयों का क्या करेंगी

जब हिमानी से पूछा गया कि KBC में जीते 1 करोड़ रुपयों का वो क्या करेंगी तो उन्होंने कहा "इनाम की राशि जितनी भी हो, पर मेरा लक्ष्य है कि मुझे दिव्यांग स्टूडेंट्स के लिए एक कोचिंग इंस्टीट्यूट शुरू करना है, जहां वे प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकें। ऐसा इंस्टीट्यूट जहां हर तरह के दिव्यांग बच्चे, जो सुन नहीं सकते, देख नहीं सकते या चलने-फिरने में तकलीफ है, सब एक ही जगह सीख सकें।"

Posted By: Sandeep Chourey