Neena Gupta ने 'जाने भी दो यारों' और 'खलनायक' में यादगार भूमिकाएं निभाईं है और अब इस लिस्ट में हाल ही में 'बधाई हो' का नाम भी जुड़ गया है। बेहद प्रेरक और प्रतिभाशाली अभिनेत्री नीना ने 'बधाई हो' में गर्भवती की शानदार भूमिका निभाई थी। अपने काम को लेकर उन्होंने अब दिल खोल के बात की है और माना है कि उन्हें मजबूत महिलाओं के ही रोल मिले हैं।

टाटा स्काय क्लासिक सिनेमा के एक शो में फिल्म ट्रेड एनालिस्ट कोमल नाहटा के शो ‘कोमल नाहटा और एक कहानी’ पर नीना ने कई बातें की हैं। अपनी अब तक यात्रा के बारे में बताते हुए नीना ने कहा कि भूमिकाएं और स्क्रिप्ट्स कभी भी उनके लिए आसान नही थी। हाल ही के प्रोजेक्ट के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा, ‘‘अक्सर मैं जिन फिल्मों के लिए ऑडिशन देती हूं, मुझे वो फिल्में नहीं मिलतीं! यहां तक कि 'बधाई हो' की स्क्रिप्ट मुझे बहुत पसंद आई थी, लेकिन मुझे लग रहा था कि यह रोल किसी और को मिल जाएगा। मैंने ऑडिशन नहीं दिया और मैं डायरेक्टर को जानती तक नहीं थी। बाद में मैं अमित शर्मा से मिली, मैंने उनसे कहा कि मुझे रोल दें क्योंकि मैं वास्तव में यह रोल करना चाहती थी और मुलाकात के 4-5 दिन बाद मुझे सलेक्ट कर लिया गया। मैं बहुत खुश हुई!’’

जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने अपने पूरे करियर के दौरान उन्होंने बोल्ड, मजबूत और प्रगतिशील किरदार निभाए हैं और समाज की रूढ़ीवादी अवधारणाओं के खिलाफ़ जाकर भूमिकाएं की हैं तो उन्होंने कहा, ‘‘मुझे शुरुआत से ही मजबूत महिला के किरदार दिए गए। मेरे व्यक्तिगत जीवन के कारण मीडिया में भी मेरी छवि एक मजबूत महिला की ही बन गई, मैं हमेशा से मुश्किल में फंसी एक युवती का किरदार निभाना चाहती थी, लेकिन मुझे यह मौका कभी नहीं मिला।’’

स्क्रीन पर अपने मुश्किल डायलॉग्स के लिए विख्यात नीना का वास्तविक जीवन भी चुनौतियों से भरा रहा है। उन्होंने समाज की रूढ़ीवादी अवधारणाओं को तोड़ा। उन्होंने बताया ‘‘मुझे अपने व्यक्तिगत जीवन की वजह से करियर में कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। मैं एक सामान्य, घरेलू महिला हूं। हालांकि अगर कोई परेशानी हो तो मैं शेरनी बन जाती हूं जैसा कि किसी भी महिला को होना चाहिए।’’

Posted By: Sudeep mishra

fantasy cricket
fantasy cricket