फिलहाल तो दूरदर्शन पर वो Ramayan देखी जा रही है जो 1980 के दशक में पहली बार दिखाई गई थी। एक रामायण 2008 में भी आई थी जिसमें Gurmeet Choudhary और Debina Bonnerjee ने साथ काम किया था। दोनों इस रामायण में राम और सीता बने थे। दोनों ने माना है कि इनकी लव स्टोरी भी तभी शुरू हुई थी, तभी आज वो पति और पत्नी हैं। उस रामायण के शूट का एक मजेदार किस्सा दोनों ने शेअर किया है।

पोर्टल 'बॉलीवुड लाइफ' से बात करते हुए गुरमीत चौधरी ने माना है कि इस रामायण के शूट के दौरान ही उन दोनों ने तय किया था कि वो कभी भी साथ काम नहीं करेंगे। गुरमित ने बताया है 'हमने महसूस किया कि हम साथ करते वक्त खूब लड़ते हैं इस वजह से हमने फैसला किया था कि हम कभी साथ काम नहीं करने वाले।'

गुरमीत ने एक किस्सा बताया है 'वनवास का एक सीन शूट करते वक्त राम, सीता और लक्ष्मण को काफी लंबा पैदल चलना था। उसी वक्त हम दोनों की लड़ाई शुरू हो गई। हमारे माइक चालू थे और देबिना लगातार मुझसे धीरे चलने का कहे जा रही थीं।'

इस बात को देबिना ने आगे बढ़ाया और कहा 'गुरमीत काफी तेज चल रहे थे। इस वजह से मेरे और उनके बीच में लंबा फासला हो रहा था। निर्देशक लगातार मुझे डांट रहे थे कि तेज चलो क्योंकि गुरमीत दौड़े चल जा रहे थे।'

गुरमीत आगे बताते हैं 'ये पहला मौका था जब राम और सीता लड़ रहे थे। ये शॉट काफी लंबा था। लक्ष्मण लगातार हम दोनों को चुप रहने और झगड़ा ना करने का बोल रहे थे। हमारे माइक चालू थे इसलिए माइक दादा का हंस हंसकर बुरा हाल था।'

देबिना बताती है कि ऐसे कई किस्से रामायण के शूट के वक्त हुए। देबिना ने माना कि आखिरी के कुछ दिनों में हमने तय किया कि हम अब कभी साथ काम नहीं करेंगे।

Posted By: Sudeep Mishra

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना