दूरदर्शन पर रामानंद सागर के पौराणिक धारावाहिक Uttar Ramayan का आज शनिवार, 2 मई को आखिरी एपिसोड का प्रसारण होगा। आज Sita Navami के दिन ही उत्तर रामायण खत्म हो रही है। सीता के धरती में समाने के बाद उत्तर रामायण खत्म होगी। इस बारे में प्रसार भारती के सीईओ ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि जिस दिन देश सीता नवमी मना रहा है, उसी दिन उत्तर रामायण का प्रसारण बंद होगा।

उन्होंने ट्वीट किया, 'दिलचस्प बात है कि देश सीता नवमी मना रहा है और रामायण/उत्तर रामायण का मैराथन ब्रॉडकास्ट आज रात को खत्म हो जाएगा।'

बता दें कि रामायण के पुन:प्रसारण ने दूरदर्शन की टीआरपी रिकॉर्ड तोड़ बढ़ी थी। रामायण दुनियाभर में सबसे ज्यादा देखा जाने वाला शो भी बना। रामायण के 16 अप्रैल के एपिसोड की व्यूअरशिप 7.7 करोड़ थी। उत्तर रामायण का पुनः प्रसारण भी खूब लोकप्रियता हासिल की।

उत्तर रामायण का पुनः प्रसारण 19 अप्रैल से शुरू हुआ था। इसके आखिरी तीन दिन धारावाहिक रोजाना दो घंटे दिखाया गया। 2 मई तक इसे पूरा कर दिया गया। इसमें अरुण गोविल, दीपिका चिखलिया, सुनील लहरी, स्वप्निल जोशी और मयुरेश क्षेत्रमदे नजर आए।

हालिया एपिसोड में भगवान राम का अपने बेटों से मिलन हुआ और ऐसा लग रहा है कि इस मिलन ने सभी की आंखें नम कर दी हैं। फैन्स श्रीराम के अपने बेटों लव-कुश से मिले तो फैन्स इमोशनल हो गए। फैन्स ने सभी कलाकारों के प्रदर्शन की सराहना की।

1987 से 1988 तक, रामायण दुनिया में सबसे ज्यादा देखा जाने वाला धारावाहिक बन गया था। जून 2003 तक, यह लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में 'दुनिया में सबसे ज्यादा देखा जाने वाला पौराणिक धारावाहिक' के रूप में दर्ज किया गया। दिलचस्प बात यह है कि जब देश में पहली बार धारावाहिक का प्रसारण शुरू हुआ था, तो लोग टीवी सेटों से चिपके रहते थे

Posted By:

  • Font Size
  • Close