अहमदाबाद के दाणापीठ में मंगलवार को सूचना के बाद प्राशासन ने मंसूरी मस्जिद में ठहरे 28 संदिग्ध लोगों पकड़ कर जांच के लिए अस्पताल भेजा है। लॉकडाउन के कारण ये लोग कई दिनों से यहां ठहरे हुए थे। ये सभी लोग जम्मू-कश्मीर तथा वापी के रहने वाले बताये जा रहे है।

स्थानीय कांग्रेस के विधायक ग्यासुद्दीन शेख ने बताया कि इनका दिल्ली के निजामुद्दीन तब्लीगी जलसे से कोई लेना देना नहीं है। ये अतरराज्यीय होने के नाते एतिहात तौर पर उन्होंने ही प्रशासन इसकी सूचना दी। जिसके बाद प्रशासन द्वारा उन्हें जांत के लिए अस्पताल भेजा गया है। अहमदाबाद महानगर पालिका के आयुक्त विजय नेहरा ने बताया कि अहमदाबाद के दाणापीठ से 28 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इनकी जांच करवायी जा रही है। ये लोग पिछले कई दिनों से मंसूरी मस्जिद में रह रहे थे। ये जम्मू-कश्मीर और वापी के रहने वाले है।

अहमदाबाद में कोरोन संक्रमितों की बढ़कर 77 पर पहुंच गयी है। दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जलसे से लौटे लोगों के कारण अहमदाबाद में कोरोना संक्रमितोंं की संख्या बढ़ गई है। गुजरात सरकार ने अपील की है कि तब्लीगी जलसे से वापस लौटने वाले लोग स्थानीय प्रशासन का संपर्क करें और 14 दिनो तक कोरोन्टीन में रहें। लेकिन सरकार की अपील का कोई असर नहीं पड़ रहा है। जिसके कारण प्रशासन ने शहर के कालूपुर, बापुनगर, रखियाल, शाहआलम, दाणिलीमणा और दरियापुर इलाके को सील कर दिया है। यहां तब्लीगी जमात से लौटे करीब 20 से अधिक लोग कोरोना संक्रमित है।

गौरतलब है कि गुजरात में कोरोना वायरस के अभी तक 167 संक्रमित है। इस वायरस से 14 लोगों की मौत हो गई है। अहमदाबाद, वड़ोदरा और सूरत में इस वायरस का अधिक प्रभाव है। प्रशासन ने अहमदाबाद के छह, वड़ोदरा के 3 और सूरत का एक इलाका सील कर दिया है। यहां कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना