अहमदाबाद। आयकर विभाग ने गुजरात के 70 विधायकों को नोटिस भेजकर उनके आयकर रिटर्न व 2017 के विधानसभा चुनाव में दिए गए संपत्ति विवरण के शपथ पत्र में भिन्‍नता पर स्‍पष्‍टीकरण मांगा है।

हालांकि विधायकों की निजता के अधिकार का ध्‍यान रखते हुए IT विभाग ने इन विधायकों के नामों को सार्वजनिक नहीं किया। इनमें सत्‍ताधारी दल भाजपा व विपक्षी दल कांग्रेस दोनों के विधायक शामिल हैं।

CM विजय रुपाणी ने इसकी पुष्टि करते हुए विधायकों को सभी प्रक्रियाओं को पूरा करने की नसीहत दी गई है। रुपाणी ने कहा कि सार्वजनिक जीवन में होनेके चलते सदस्‍यों की यह जिम्‍मेदारी भी है कि वे इस तरह की सभी प्रक्रियाओं को समय पर पूरा करें।

गुजरात के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि विधानसभा के सदस्‍यों को आयकर विभाग ने नोटिस भेजकर उनकी ओर से दिए गए आयकर रिटर्न व वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव के उनके शपथ पत्र में संपत्ति संबंधी विसंगतता पर जवाब मांगा है।