सूरत (ब्यूरो)। एक पिता ने अपने तीन मासूम बधाों और पत्नी की हत्या की कर खुद भी मौत को गले लगा लिया। हीरानगरी सूरत में हुई इस सनसनीखेज घटना ने शुक्रवार को शहरियों के होश उड़ा दिए।

यह घटना शहर के पांडेसरा इलाके की महादेव नगर सोसायटी की है। हत्या और आत्महत्या के कारणों की अभी जानकारी नहीं हो सकी है, लेकिन बताया जा रहा है कि रिश्तेदार के यहां शादी में जाने को लेकर पति-पत्नी के बीच तकरार हुई थी जिसके बाद पति ने यह वहशी कदम उठाया। वहीं कुछ पड़ोसियों ने घटना के पीछे आर्थिक कारण भी गिनाए हैं।

पुलिस के अनुसार सोसायटी के मकान नंबर 322 में आनंदा गायकवाड़ (40) पत्नी ज्योति (35), दो बेटियां अनुराधा (15) प्राजक्ता (5) और बेटे जयेश (7) के साथ पिछले एक साथ से रह रहा था। वह रिंग रोड पर स्थित रघुकुल मार्केट में एक कपड़े की दुकान पर बतौर एकाउंटेंट काम करता था। उसके बच्चे पांडेसरा इलाके के ही साईंबाबा स्कूल में पढ़ते थे।

शुक्रवार सुबह जब पड़ोसियों ने घर में कोई हलचल महसूस नहीं की तो उन्हें शक हुआ। दरवाजा खटखटाने पर भी कोई जवाब नहीं मिला। पुलिस को खबर कर दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा

तोड़ा तो देखा आनंदा का शव पंखे से लटक रहा था, जबकि जयेश और प्राजक्ता के शव बेड पर और ज्योति और नूतन के शव फर्श पर पड़े थे।

इंस्पेक्टर वीजी पटेल ने बताया कि आनंदा ने पहले अपनी पत्नी की हत्या की। फिर बच्चों की हत्या कर खुद पंखे से लटक गया। हत्या से पहले उसने सबको कोई नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोश कर दिया था। उन्होंने बताया कि आनंदा की बहन की शादी 18 मई को होने वाली थी। इसके लिए उन्हें अपने पैतृक गांव महाराष्ट्र के भुसावल जाना था। शुक्रवार को ही उन्हें भुसावल के लिए जाना था। पटले ने बताया कि घटना के कारणों की जांच के लिए आनंदा के पड़ोसियों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket