शत्रुघ्‍न शर्मा, अहमदाबाद। वैसे तो सोशल मीडिया पर लोग अपने मत रखते हैं और यह आम बात हो गई है लेकिन एक युवक को फेसबुक पर कमेंट करना महंगा पड़ गया। असल में, वह कमेंट में नसीहत दे रहा था, जिसके कारण उसे पुलिस ने नोटिस भेज दिया। युवक ने कमेंट में एक शब्‍द लिख दिया था, शानदार। यही उसकी मुसीबत बन गया।

गुजरात में एक युवक ने फेसबुक पर नए मोटर वाहन कानून की तरह नशाबंदी कानून के अमल की नसीहत दी तो पुलिस ने उसे नोटिस भेज दिया। पुलिस ने कहा आपकी सूचना के आधार पर पुलिस कार्यवाही करना चाहती है।

यह है पूरा मामला

दक्षिण गुजरात के बारडोली पुलिस थाना के पुलिस निरीक्षक एन एस चौहाण ने जीत मिस्‍त्री नामक युवक को समन भेजकर कहा कि देव चौधरी ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है कि बारडोली में गांजा व शराब की बिक्री होती है, पीयूसी हेलमेट कानून इतना ही जरूरी है तो नशाबंदी कानून का भी पालन जरुरी है। इस पोस्‍ट पर जीत उर्फ जीतू मिस्‍त्री ने कमेंट बॉक्‍स में शानदार लिख दिया था जिसके लिए उसे समन का सामना करना पड़ा।

यूपी में भी आ चुका है ऐसा ही एक मामला

उत्‍तर प्रदेश के मिर्जापुर में मिड डे मील की गुणवत्‍ता पर सवाल उठाने व गुजरात में सीएम के काफिले की कार के बीमा को लेकर सोशल मीडिया में सवाल उठाने वालों की गिरफ्तारी के मामले सामने आए। अब फेसबुक पर लिखी पोस्‍ट पर कमेंट के रूप में शानदार लिखने पर एक युवक को पुलिस ने दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 160 के तहत नोटिस भेज दिया।

Posted By: Navodit Saktawat