अहमदाबाद। गुजरात के अंबाजी शक्तिपीठ में हर वर्ष की तरह इस बार भी अंबाजी मेला की शुरुआत हो गई है। सोमवार को तीसरे दिन भी लाखों भक्त मंदिर में दर्शन को उमड़े। शक्ति पीठ में आने वाला दान करोड़ रुपए से भी अधिक हो गया है। इस मंदिर का संचालन प्रशासन द्वारा किया जाता है।

गौरतलब है कि मां अंबाजी मंदिर का कलश सोने का बनाया गया है। इसके अलावा अब मंदिर भी सोने से बनाने की तैयारी हो चुकी है। आरासुरी अंबाजी ट्रस्ट के सूत्रों ने बताया कि रविवार को तीन लाख से भी अधिक भक्तों ने मां अंबा के दर्शन किए। सोमवार को दर्शनार्थियों का आंकड़ा इससे भी अधिक होने की संभावना है। यह मेला पूर्णिमा तक जारी रहेगा।

100 साल के बुजुर्ग ने लिखा अंग्रेजी में सुंदरकांड

देश के 51 शक्तिपीठों में से एक इस मंदिर में आने वाले दिनों में भक्तों की संख्या बढ़ सकती है। इस दौरान शनिवार और रविवार तक कुल 4,35,103 दर्शन करने की जानकारी मिली है। यात्राधाम अंबाजी को जोड़ने वाले मार्गों पर गगन भेदी जयकारों से वातावरण गूंज उठा है। प्रशासन द्वारा यहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

Posted By:

  • Font Size
  • Close